इलेक्ट्रिक बसों से सुविधा के साथ प्रदूषण भी होगा कम : नंद गोपाल गुप्ता नंदी

प्रदेश में इलेक्ट्रिक बसों के संचालन का आगाज प्रयागराज से किया गया। यहां की जनता के लिए यह बड़ी सौगात है। बसपा की सरकार में तिजोरी कैसे भरें यह केंद्र बिंदु होता था, लेकिन भाजपा सरकार में चहुंमुखी विकास हो रहा है। यह बात गुरुवार को कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने नैनी में इलेक्ट्रिक बसों के उद्घाटन अवसर पर कही।

मंत्री ने इलेक्ट्रिक बसों के लिए प्रधानमंत्री मोदी व मुख्यमंत्री योगी को धन्यवाद ज्ञापित किया। कहा कि इन बसों से आमजन को सुविधा होगी तथा प्रदूषण नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश एवं मुख्यमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश निरंतर विकास की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि धर्म, जाति से ऊपर उठकर सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास के सिद्धांत पर सरकार पात्र लोगों को योजनाओं से लाभान्वित कर रही है।

सांसद फूलपुर केशरी देवी पटेल ने कहा कि प्रयागराज को इलेक्ट्रिक बस की बहुत बड़ी सौगात मिली है। आने वाले दिनों में और भी सुविधाएं जनता को मिलेगी। नगर आयुक्त रवि रंजन ने कहा कि इलेक्ट्रिक बसों के संचालन से लोगों को वायु एवं ध्वनि प्रदूषण से राहत तथा पर्यावरण संरक्षण में मदद मिलेगी। उद्घाटन कार्यक्रम के बाद मंत्री ने विधि-विधान से पूजन किया। इसके बाद सांसद केशरी देवी पटेल, मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी, विधायक हर्ष वर्धन बाजपेई, विधायक प्रवीण पटेल, गंगापार एवं यमुनपार अध्यक्ष, नगर आयुक्त एवं इलेक्ट्रिक बस संचालन में सहयोग देने वाले अधिकारियों ने हरी झंडी दिखाकर एक बस रवाना की। वहीं, दूसरी बस पर मंत्री समेत सभी अतिथियों ने बैठकर प्रयागराज की सड़कों पर सफर किया। महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी, पूर्व अध्यक्ष नरसिंह, रवि मिश्रा, राजन शुक्ला, अनूप मिश्रा, दिलीप केसरवानी, संत प्रसाद पांडेय, रामजी मिश्रा, मयंक यादव, गीता श्रीवास्तव आदि रहे।

रोडवेज के आरएम टीके बिसेन ने बताया कि प्रधानमंत्री तथा मुख्यमंत्री के निर्देशन में फेम योजना के अन्तर्गत नगरीय विकास विभाग की ओर से प्रयागराज को 50 इलेक्ट्रिक बसें मिलनी हैं, इनमें से पहले चरण में 25 वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसों का संचालन विभिन्न क्षेत्रों में किया जाएगा। गुरुवार को 15 बसों का संचालन शुरू किया गया।

Related posts