खुद को क्राइम ब्रांच का दारोगा बताकर AG ऑफिसकर्मी की 3 अंगूठी और चेन उतरवाई

बदमाश रोज नए-नए तरीके डेवलप करते हैं। प्रयागराज में सोमवार को एजी ऑफिस के कर्मी को बाइक सवार दो युवकों ने रोका और कहा कि मैं क्राइम ब्रांच से हूं। शहर में लूट की इतनी वारदात हो रही हैं और तुम चेन-अंगूठी पहनकर टहल रहे हो। चलो उतारो नहीं तो चालान कर दूंगा। एजी आफिस के लेखा परीक्षक चंद्रभान विश्वकर्मा ने हाथ में पहनी 3 अंगूठी और एक सोने की चेन उतारकर दे दी। शातिर ने उनके हाथ में एक कागज की पुड़िया थमाई और कहा कि जाओ घर जाकर पहन लेना। रास्ते में न पहनना।

सोने की चेन-अंगूठी के बदले कागज में थमा दिए कंकड़ की पुड़िया

चंद्रभान जब घर पहुंचे और पुड़िया खोली तो भौचक रह गए। पुड़िया में शातिरों ने कंकड़ भर रखा था। हड़बड़ाकर बाहर निकले और दोनों युवकों को शहर में खूब खोजा पर उनका कोई पता न चला। बाद में कीडगंज थाने में तहरीर दी गई है। पुलिस सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों की तलाश कर रही है।

फर्जी पुलिसकर्मी बोला- रात में मोटी चेन पहनकर न चलें

बैरहना के रहने वाले चंद्रभान ने बताया कि रविवार रात को वह कटरा से सामान लेकर घर लौट रहे थे। जैसे ही ग्रीन हाउस वाली गली में घुसे। वहां पर बाइक सवार दो युवकों ने रोक लिया और बोले कि वे पुलिसकर्मी हैं। शहर में क्राइम बढ़ गया है तुम इतनी मोटी चेन और अंगूठी पहनकर घूम रहे हो। उनके कहने पर चंद्रभान ने चेन और अंगूठी उतार ली। वे अपने आभूषण जेब में रखने वाले थे तभी एक युवक ने इसे अपने पास से दिये कागज में रखने को कहा।

युवकों ने आभूषणों को कागज में लपेट कर उन्हें दे दिया, पर इस दौरान बड़ी होशियारी से दोनों युवकों ने उसमें से आभूषण गायब कर दिये। चंद्रभान को अपने साथ ठगी की जानकारी तब हुई जब वे घर पहुंचे और कागज की पुड़िया खोलकर देखी। चंद्रभान ने इसकी सूचना कीडगंज थाने में दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सीसीटीवी फुटेज की पड़ताल की पर दोनों युवकों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी।

Related posts