जापान में बच्चों की बदमाशी का बीमा, उनकी शैतानी से हुए नुकसान का हर्जाना भरेगी कंपनी

japan,japan insurance company,bully insurance

चैतन्य भारत न्यूज

टोक्यो (जापान). बीमा यानी इंश्योरेंस का नाम सुनते ही दिमाग में जीवन बीमा, स्वास्थ्य बीमा, वाहन बीमा या घर के सामान के बीमा ही आता है। विदेशों में तो गायकों द्वारा अपने गले का भी बीमा करवाने की बातें भी सामने आई हैं। अब जापान की येल इंश्योरेंस कंपनी स्कूल में बच्चों की बदमाशी का बीमा कर रही है। इसके तहत कंपनी बीमा करवाने वाले अभिभावकों के बच्चों का ख्याल रखेगी।

कंपनी स्कूल में बच्चों द्वारा की गई तोड़फोड़ से हुए नुकसान का हर्जाना देगी। यदि बच्चे स्कूल में एक-दूसरे से लड़ते हैं और इससे उन्हें शारीरिक नुकसान होता है तो कंपनी उनके इलाज का खर्च उठाएगी। इतना ही नहीं स्कूल या किसी अन्य बच्चे के अभिभावक द्वारा केस किए जाने पर कोर्ट की कानूनी फीस भी भरेगी। यह बीमा पॉलिसी लेने के लिए अभिभावकों को 24 डॉलर (करीब 1665 रुपए) हर महीने प्रीमियम देना होगा। दावा किया जा रहा है कि येल इंश्योरेंस कंपनी इस तरह का बीमा करने वाली दुनिया की पहली कंपनी बन गई है। जापान के शिक्षा, संस्कृति विभाग द्वारा किए गए एक अध्ययन के मुताबिक 2017 में प्राथमिक, माध्यमिक और हाई स्कूल में बच्चों की बदमाशी से जुड़े 4.1 लाख मामले सामने आ चुके हैं।

अनोखी पॉलिसी बनी देशभर में चर्चा का विषय

येल इंश्योरेंस कंपनी की यह अनोखी बीमा पॉलिसी देशभर में चर्चा का विषय बन गई है। कुछ अभिभावक खुश हैं लेकिन कुछ पैरेंट्स ने ऐसी पॉलिसी का विरोध किया है। विरोध करने वाले लोगों का कहना है कि कंपनी यह पॉलिसी देकर बच्चों को बदमाशी करने के लिए बढ़ावा दे रही है। यह पॉलिसी लेने वाले अभिभावक अपने बच्चों की शैतानी को लेकर निश्चिंत हो जाएंगे और उनका ख्याल रखना छोड़ देंगे। इसका बच्चों पर बुरा असर पड़ सकता है। कुछ दूसरी रिपोर्ट्स के मुताबिक जापान में बदमाशी से जुड़े केस बढ़ने पर अभिभावक बच्चों को लेकर चिंतित रहते हैं लेकिन इसे लेकर बच्चों से ज्यादा बात नहीं करते हैं। ऐसे में अभिभावकों के लिए यह पॉलिसी अच्छी साबित हो सकती है।

ये भी पढ़े… 

इस देश में अब बच्चों के साथ मारपीट नहीं कर पाएंगे माता-पिता, सरकार ने छीना 59 साल पुराना अधिकार

बच्चों को मत समझिए नादान, उनके भी हैं कई अधिकार, जानिए क्या 

Related posts