टीकाकरण के लिए शासन से किशोरों की सूची मिलने का इंतजार

स्वास्थ्य विभाग ने तीन जनवरी से किशोरों को कोविड का टीका लगाने की तैयारियां तेज कर दी हैं। किशोरों की संख्या अनुमानित पांच लाख मानकर माइक्रोप्लान तैयार किया गया है। इंतजार शासन से किशोरों की सूची मिलने का है। वहीं दैनिक टीकाकरण के साथ किशोरों को वैक्सीन डोज लगाने से इतर निर्देश आने पर वैकल्पिक व्यवस्था के तहत टीमों का गठन भी किया गया है। चूंकि किशोरों को सिर्फ कोवैक्सीन की डोज ही लगाई जाएगी, इसलिए स्थानीय वैक्सीन भंडार में अभियान के लिए फिलहाल एक लाख से अधिक कोवैक्सीन की डोज आरक्षित की गई हैं। 

शासन से मिले निर्देशों के अनुरूप स्वास्थ्य विभाग ने 15 से 18 आयु वर्ग के करीब पांच लाख किशोरों का टीकाकरण करने की तैयारी की है। शासन ने आबादी के 6.1 प्रतिशत किशोरों का आकलन किया है। वर्तमान जनगणना के आधार पर किशोरों की संख्या पांच लाख के आसपास ही टिकेगी। इसके लिए माइक्रोप्लान तैयार है, टीमों का गठन भी किया गया है।  

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी एसीएमओ डॉ. तीरथ लाल के मुताबिक टॉरगेट और सूची के साथ किशोरों के टीकाकरण अभियान को संचालित किया जाएगा। स्थानीय स्तर पर प्रारंभिक तैयारियां लगभग पूरी हैं। इस कार्य में स्कूल, कॉलेज प्रबंधन का भी सहयोग लेने की तैयारी है।

तीसरी लहर की तैयारी: मॉकड्रिल तीन, चार जनवरी को
कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर की तैयारी में ओमीक्रॉन के बढ़ते खतरे को देखते हुए तैयारियों में तेजी आ गई है। स्वास्थ्य विभाग तीन और चार जनवरी को सुविधाओं, संसाधनों को जांचने के लिए मॉकड्रिल कराएगा। प्रशासन की निगरानी में स्वास्थ्य विभाग ने संसाधनों की उपलब्धता की समीक्षा भी शुरू कर दी है। बिंदुवार अस्पतालों में सुविधाओं, बिस्तर, आईसीयू बेड, वेंटीलेटर, ऑक्सीजन, दवाओं की उपलब्धता का परीक्षण शुरू हो गया है। मॉकड्रिल के लिए बृहस्पतिवार को तैयारियों को अंतिम रूप से परखा जाएगा।

Related posts