पूर्व राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी को देखने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को पुलिस लाइन पहुंचते ही कविता यादव त्रिपाठी से उनके ससुर पूर्व राज्यपाल केशरी नाथ त्रिपाठी का हालचाल पूछा। कविता ने बताया कि वह अब पहले से ठीक हैं। प्रयागराज में आयोजित कार्यक्रम की समाप्ति के बाद योगी आदित्यनाथ पूर्व राज्यपाल को देखने उनके घर पहुंच गए। यह उनके कार्यक्रम में शामिल नहीं था।

केशरीनाथ त्रिपाठी से उन्होंने लगभग 15 मिनट तक बातचीत की। पूर्व राज्यपाल ने बताया कि मुख्यमंत्री शिष्टाचार में उनसे मिलने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने तीन सुझाव दिया। स्थानीय भाषा में कहा कि प्रयागराज को और चमका दें। बताया कि पहला सुझाव गंगा की लहरों को दो जगहों पर बांधा जाए। एक फाफामऊ से और दूसरी दारागंज से जो झूंसी की ओर निकलेगी। इसके बीच की जगह पर हरिद्वार की तरह घाट बनाया जाए। दूसरा त्रिवेणी पुष्प को पर्यटन के लिजाह से विकसित किया जाए। तीसरा यमुनापार में चिड़ियाघर बनाया जाए। हालांकि उन्होंने यह सुझाव 1977 में भी दिया था।

पुलिस लाइन में जयकारे से किया स्वागत

मुख्यमंत्री रविवार को तय कार्यक्रम से पुलिस लाइन एक घंटा देर से पहुंचे। लगभग चार बजे उनका हेलीकॉप्टर पुलिस लाइन में उतरा। यहां मेयर अभिलाषा गुप्ता, महामंडलेश्वर संतोष दास सतुआ बाबा, कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, सांसद केशरी देवी पटेल, विधायक हर्षवर्धन बाजपेई, नीलम करवरिया, एमएलसी सुरेंद्र चौधरी ने स्वागत किया। मुख्यमंत्री हाथ जोड़कर सबसे मिले और उनके बारे में पूछताछ की। इसके बाद वह कार से लूकरगंज निकल गए। इससे पूर्व लखनऊ से आई सिक्योरिटी टीम ने सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया था। एलआईयू ने पास धारकों को ही हेलीपैड के पास जाने दिया। एडीजी प्रेम प्रकाश मुख्यमंत्री के साथ कौशाम्बी से पुलिस लाइन पहुंचे। इस दौरान कमिश्रर, आईजी, डीआईजी, डीएम, एसपी माघ मेला और माघ मेला प्रभारी समेत अन्य पुलिस और प्रशासनिक अफसर रहे। कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम के नारे लगाकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

Related posts