प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे इंडियन स्पेस एसोसिएशन का वर्चुअली उद्घाटन करेंगे

PM मोदी वर्चुअल उद्घाटन समारोह के अवसर पर स्पेस इंडस्ट्री के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत भी करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह 11 बजे इंडियन स्पेस एसोसिएशन (ISpA) का वर्चुअली उद्घाटन करेंगे। इस दौरान वे स्पेस इंडस्ट्री से जुड़े लोगों से भी बातचीत करेंगे। रविवार को PM मोदी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि इस उपलब्धि को हासिल करने की उन्हें बेहद खुशी हो रही है। उन्होंने लिखा, ‘मुझे खुशी है कि मैं स्पेस सेक्टर के दिग्गजों से मिलने वाला हूं। जिन लोगों को स्पेस की दुनिया और नए अविष्कारों में रुचि है, उन्हें कल का कार्यक्रम जरूर देखना चाहिए।’

PMO के मुताबिक, ISpA स्पेस और सैटेलाइट कंपनियों का एक प्रीमियर इंडस्ट्री एसोसिशन है। यह ग्रुप भारत की स्पेस इंडस्ट्री की पहचान बनेगा। यह सरकार और एजेंसियों को इस क्षेत्र में योजनाएं बनाने और इस सेक्टर से जुड़े लोगों से समन्वय स्थापित करने में मदद करेगा। बयान में कहा गया है कि PM मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने के अनुरूप ISpA भारत को आत्मनिर्भर बनाने, तकनीकी रूप से आगे बढ़ाने और अंतरिक्ष क्षेत्र का अग्रणी देश बनाने में अहम भूमिका निभाएगा।

ISpA में कई दिग्गज कंपनियां शामिल
ISpA के संस्थापक सदस्यों में लार्सन एंड टुब्रो, नेल्को (टाटा ग्रुप), वनवेब, भारती एयरटेल, मैपमायइंडिया, वालचंदनागर इंडस्ट्री, अनंत टेक्नॉलजी लिमिटेड शामिल हैं। इसके अन्य सदस्यों में गोदरेज, अजिस्टा-बीएसटी एरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड, BEL, सेंटम इलेक्ट्रानिक्स एंड मैक्सर इंडिया शामिल हैं।

कोरोना की वजह से ISRO के अंतरिक्ष मिशनों में देरी
देश ने पिछले कुछ सालों में अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में काफी प्रगति की है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने भी कई लॉन्च सफल रहे हैं। हालांकि, कोरोना की वजह से इनमें से कुछ अंतरिक्ष मिशनों के कार्यक्रम में देरी आई है। देश के पहले सौर मिशन के 2022 की तीसरी तिमाही में लॉन्च होने की संभावना है। अगले साल भारत की दूसरी अंतरिक्ष वेधशाला एक्सपोसैट भी लॉन्च होगी। वहीं, गगनयान मिशन भी 2022 के अंत तक या 2023 की शुरुआत में शुरू होने की संभावना है।

Related posts