प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी : नई यूपी को कोई वापस अंधेरे में नहीं धकेल सकता

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि नई यूपी को कोई वापस अंधेरे में नहीं धकेल सकता। यूपी के विकास की धारा अब किसी के रोकने से रुकने वाली नहीं है। मंगलवार को परेड मैदान में आयोजित महिला सशक्तीकरण सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश के सामर्थ्य की प्रतीक महिलाओं ने, माता-बहनों-बेटियों ने ठान लिया है, अब वो पहले की सरकारों वाला दौर वापस नहीं आने देंगी।

पीएम ने कहा कि पांच साल पहले यूपी की सड़कों पर माफियाराज था। यूपी की सत्ता में गुंडों की हनक हुआ करती थी। इसका सबसे बड़ा भुक्तभोगी कौन था? मेरे यूपी की बहन-बेटियां थीं। उन्हें सड़क पर निकलना मुश्किल हुआ करता था। स्कूल, कॉलेज जाना मुश्किल होता था। आप कुछ कह नहीं सकती थीं, बोल नहीं सकती थीं। क्योंकि थाने गईं तो अपराधी, बलात्कारी की सिफ़ारिश में किसी का फोन आ जाता था। योगीजी ने इन गुंडों को उनकी सही जगह पहुंचाया है। आज यूपी में सुरक्षा भी है, अधिकार भी हैं। आज यूपी में संभावनाएं भी हैं, व्यापार भी है।

पीएम ने कहा, अभी कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार ने एक और फैसला किया है। पहले बेटों के लिए शादी की उम्र कानूनन 21 साल थी, लेकिन बेटियों के लिए ये उम्र 18 साल ही थी। बेटियां भी चाहती थीं कि उन्हें उनकी पढ़ाई-लिखाई के लिए, आगे बढ़ने के लिए समय मिले, बराबर अवसर मिले। इसलिए, बेटियों के लिए शादी की उम्र को 21 साल करने का प्रयास किया जा रहा है। देश ये फैसला बेटियों के लिए कर रहा है, लेकिन किसको इससे तकलीफ हो रही है, ये सब देख रहे हैं।

Related posts