प्रयागराज में कोरोना के सात नए मरीज , दिन पर दिन बढ़ रहे केस

कोरोना संक्रमण के प्रति लोगों की अनदेखी और बचाव के नियमों से खिलवाड़ एकबारगी खतरनाक हो गया है। जिले में कोरोना के नए केस अचानक बढ़ गए हैं और भविष्य के लिए यह और भी खतरे के संकेत हैं। गुरुवार को सात लोगों में संक्रमण मिला। यह चिंताजनक क्योंकि 14 सितंबर के बाद बुधवार यानी 29 दिसंबर को छह लोगों को कोरोना संक्रमण हुआ था। ठीक दूसरे ही दिन नए केस तेजी से बढ़े। जबकि अक्टूबर और नवंबर में काफी राहत थी।

स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि जनवरी के महीने में लोग भीड़ में जाने से बचें और मास्क जरूर लगाएं। कोरोना की एक और लहर की आशंका विशेषज्ञ भी जता रहे हैं जबकि दुनिया के कई देशों और भारत में भी ओमिक्रोन संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। इसके देखते हुए अस्पतालों में रोगियों को भर्ती करने व त्वरित इलाज की व्यवस्था कर ली गई है। सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में कोविड जांच भी बढ़ा दी गई है। गुरुवार को 8433 लोगों की कोविड जांच की गई। जबकि माघ मेला क्षेत्र में हुई जांच का आंकड़ा जिले की दैनिक कोविड जांच से अलग है।

सीएमओ डा. नानक सरन ने कहा है कि परिस्थितियां ऐसी हैं कि केस और भी बढ़ सकते हैं। लोग सर्दी के मौसम में गर्म कपड़े पहनकर रहें। बच्चों को भी सुरक्षित रखें। घर से बाहर जाएं तो मास्क जरूर लगाएं और भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें।

माघ मेला क्षेत्र में 1521 की जांच, पाजिटिव कोई नहीं

माघ मेला क्षेत्र में श्रद्धालुओं को कोरोना से सुरक्षित रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीमें सक्रिय कर दी गई हैं। अलग-अलग स्थानो पर घूम रही वैन में स्वास्थ्य कर्मियों ने जांच किट साथ रखी है। लोगों के सैंपल लिए जा रहे हैं। गुरुवार को 953 की एंटीजन व 568 की आरटीपीसीआर जांच की गई। हालांकि यह राहत वाली बात है कि 1521 से अधिक लोगों की जांच में कोई भी संक्रमित नहीं मिला। मेले में सात स्थानों पर टीकाकरण केंद्र भी खोले गए हैं।

Related posts