प्रयागराज में कोरोना मुक्त माघ मेला आयोजित कराने के लिए विशेष तैयारी

RTPCR की निगेटिव रिपोर्ट दिखाइए, तब संगम में डुबकी लगाइए

प्रयागराज के संगम के तट पर आयोजित होने वाला माघ मेला नजदीक है तो वहीं दूसरी जिले में कोरोना का संक्रमण भी तेजी से फैल रहा है। ऐसे में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के लिए बड़ी चुनौती है। पिछली बार की तर्ज पर इस बार भी माघ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कोरोना की आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य कर दिया गया है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ओर से सख्त निर्देश भी अधिकारियों को दिए गए हैं। मेले में उन्हीं श्रद्धालुओं को इंट्री दी जाएगी जो मेले में आने के 48 घंटे पहले की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट लाएंगे। कल्पवासियों के लिए भी यही व्यवस्था लागू होगी।

गंगा और त्रिवेणी चिकित्सालय इलाज के लिए तैयार

माघ मेला क्षेत्र में श्रद्धालुओं के स्वास्थ्य का विशेष ख्याल रखा जाएगा। इसके लिए मेला क्षेत्र में दो अस्पताल (गंगा और त्रिवेणी चिकित्सालय) 20-20 बेड के बनाए गए हैं। दो दिन पहले 20 बेड के त्रिवेणी अस्पताल का शुभारंभ किया गया है और दूसरे गंगा चिकित्सालय का श्रीगणेश मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. नानक सरन द्वारा मंगलवार को किया गया। गंगा अस्पताल की व्यवस्था चंद्रेश चौरसिया संभालेंगे। मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य संबंधी यदि कोई परेशानी होती है तो इन अस्पतालों में तैनात डॉक्टर उनका मुफ्त इलाज करेंगे। यहां दवा आदि की व्यवस्था की गई है। इसी तरह मेले में 12 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाए गए हैं। इन सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर कोविड की जांच व कोविड वैक्सीनेशन की व्यवस्था भी रहेगी।

Related posts