प्रयागराज में बारिश का नौ वर्षों का रिकार्ड टूट सकता है

मौसम विभाग के आंकड़ों पर नजर डालें तो 2012 में सितंबर माह में सबसे ज्यादा बारिश 474.5 मिलीमीटर हुई थी। इस बार यह रिकार्ड टूट सकता है। क्योंकि 36 घंटों में 197 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। इसके अलावा की दो-दो दिन के अंतराल पर ठीक ठाक बारिश हो भी चुकी है। अभी इस महीने के 13 दिन शेष हैं। बता दें कि 2019 में भी सितंबर माह में 370.8 मिलीमीटर बारिश हुई थी।

  • मौसम विभाग के आंकड़ों को देखें तो प्रयागराज में पिछले पिछले वर्षों के बारिश की जानकारी हो जाएगी। इस बार पिछले कई वर्षों का बारिश का रिकार्ड टूट सकता है। इस बार सितंबर माह में जैसी बारिश हो रही है ऐसी बारिश नौ साल पहले हुई थी।

पिछले दस साल में सितंबर माह में हुई अधिकतम बारिश

वर्ष            माह में वर्षा

2011        311.1 मिमी

2012        474.5 मिमी

2013        67.9 मिमी

2014        43.5 मिमी

2015        10.4 मिमी

2016        303.0 मिमी

2017        91.3 मिमी

2018       149.4 मिमी

2019       370.8 मिमी

2020       134.2 मिमी

तीन दिन से बदले मौसम के मिजाज में अभी भी बदलाव नहीं आया है। मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन दिन भी बादलों की लुकाछिपी और बारिश होने की पूरी संभावना है। ऐसे में आपको अगर जरूरी काम से बाहर निकलना है तो संभलकर निकलें। छाता या रेन कोर्ट जरूर ले लें। पता नहीं कब झमाझम बारिश शुरू हो जाए। इस बार सितंबर माह में जैसी बारिश हो रही है, ऐसी बारिश नौ साल पहले हुई थी।

प्रयागराज में मंगलवार से बारिश हो रही है। पहले दिन शहरी क्षेत्र से ज्यादा ग्रामीण क्षेत्र में बारिश का असर दिखाई दिया था। बुधवार अल सुबह से बारिश होने का जो सिलसिला शुरू हुआ, वह गुरुवार को लगभग सुबह नौ बजे जाकर रुका। 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चली तो आसमान से बादल एक बार के लिए उड़ गए। मगर बादलों ने एक घंटे में फिर से डेरा डाल दिया। उसके बाद बारिश का सिलसिला फिर चालू हो गया। जो देर रात तक रुक-रुक कर चलता रहा। बुधवार रात में झमाझम बारिश होने पर शहर के अधिकांश मोहल्लों में जलभराव की समस्या हो गई थी। गुरुवार को बारिश होने पर लोगों की मुसीबत और बढ़ गई। हालांकि आज सुबह से आसमान में बादल छाए हैं लेकिन बारिश नहीं हुई।

शुक्रवार को प्रयागराज का अधिकतम तापमान 27.0 डिग्री सेल्सियस और न्‍यूनतम तापमान 25.0 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। गुरुवार को अधिकतम तापमान 27.4 डिग्री सेल्सियस और न्‍यूनतम तापमान 25.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था। यानी कल की तुलना में आज अधिकतम और न्‍यूनतम तापमान में कमी आई है। वहीं बुधवार को अधिकतम तापमान 27.6 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 25.7 डिग्री रहा।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डा. शैलेंद्र राय का कहना है कि शुक्रवार को मौसम साफ रहने की संभावना है। बारिश कम होने की उम्मीद कम है। अगर वायु दाब में उतार-चढ़ाव होगा तो मौसम अचानक बदल सकता है।

Related posts