प्रयागराज में मंगलवार की रात घर में घुसकर की मां-बेटी हत्‍या

बुजुर्ग को जख्‍मी कर डकैती

प्रयागराज में मंगलवार की रात बड़ी वारदात हो गई। यमुनापार के औद्योगिक थाना क्षेत्र में रात में बदमाशों ने तांडव किया। घर में घुसकर धारदार ह‍थियार से मां-बेटी की हत्‍या कर दी। इतना ही नहीं बुजुर्ग यानी महिला के पति को धारदार हथियार से वार कर लहूलुहान कर दिया। इसके बाद नकदी, आभूषण लूट ले गए। सूचना पर पहुंची पुलिस और डाग स्‍क्‍वायड जांच-पड़ताल कर रही है। अभी हत्‍यारों के बारे में कोई सुराग नहीं लग सका है। गंभीर रूप से जख्‍मी वृद्ध को इलाज के लिए अस्‍पताल में भर्ती कराया गहै।

औद्योगिक थाना क्षत्र के चेक पूरे खुर्द गांव बजरंग बहादुर उर्फ नचकऊ 60 परिवार के साथ रहते हैं। मंगलवार की रात उनके घर में बदमाश घुसे। खटपट की आवाज सुनकर बजरंग की नींद टूटी और वे चिल्लाने लगे। इस पर बदमाशों ने धारदार हथियार से उन पर हमला कर दिया। शोर गुल सुनकर बजरंग बहादुर की 55 वर्षीय पत्नी प्रेम पति देवी और 18 वर्षीय बेटी तनु भी वहां पहुंची तो बदमाशों ने उन पर भी धारदार हथियार से हमला कर दिया। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

बजरंग को लहूलुहान करके और मां-बेटी की हत्‍या के बाद बदमाशों ने घर में रखे बक्सों, अलमारी में रखा सामान लूट ले गए। वारदात का पता बुधवार की सुबह करीब 6:30 बजे तब हुआ जब बजरंग बहादुर की छह वर्षीय नातिन अंशिका दरवाजा खोलकर बाहर निकली। उसने गांव वालों को बताया कि बाबा और दादी सो रहे हैं। उठ नहीं रहे हैं। गांव वाले किसी अनहोनी की आशंका से जब घर में घुसे तो नचकऊ की सांसे चल रही थी। और उनकी पत्नी और बेटी की मौत हो चुकी थी।

इसी बीच सूचना पाकर वहां पुलिस भी पहुंची। आनन-फानन में गांव वालों की मदद से बजरंग बहादुर को  को अस्पताल पहुंचाया गया। मौके पर पहुंची पुलिस अभी जांच कर रही है डाग स्क्वायड को बुलाया गया है घटना को लेकर गांव में दहशत है। गांव वाले पर्दाफाश होने से पहले तक शव न उठने की चेतावनी दे रहे हैं। भारी संख्या में पुलिस पहुंच गई है। घर के पीछे एक जोड़ी जूता और खून से सना कपड़ा पीटने वाला पिटना मिला है जिसे पुलिस ने कब्जे में ले लिया है।

Related posts