प्रयागराज में संगम के तट पर श्रद्धालुओं के लिए माघ मेला के पहले बनेंगे एक दर्जन अस्थायी अस्पताल

प्रयागराज के संगम तट पर प्रतिवर्ष लगने वाले माघ मेले की तैयारियांं जोर शोर से हो रही हैं। जनवरी में मकर संक्रांति से शुरू होने वाले इस मेले में देश भर से आए श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगाते हैं। ऐसे में उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए व्यापक इंतजाम किए जा रहे हैं। मेला शुरू होने के पहले ही एक दर्जन से ज्यादा अस्थायी अस्पताल बनाकर तैयार किए जाएंगे। यह अस्पताल अलग अलग सेक्टरों में बनाए जाएंगे। इसके लिए विभाग के अधिकारी खाका खींचने मे जुटे हैं। अस्पतालों में इलाज बिल्कुल मुफ्त होगी।

गैर जनपदों से भी आएंगे डॉक्टर

दरअसल, माघ मेले में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का यहां आना होता है। ऐसे में यहां प्रयागराज के अलावा गैर जनपदों से भी डॉक्टर व अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को बुलाया जाता है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नानक सरन कहते हैं कि इस मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को स्वास्थ्य संबंधी किसी भी परेशानी के लिए हमारे डॉक्टर मेले में ही मौजूद रहेंगे। कुछ अस्पतालों में मानइर ओटी भी बनाई जाएगी।

आस पास के अस्पताल होंगे अलर्ट

संगम या शहर के आसपास के अस्पतालों को मेले के दौरान अलर्ट मोड में रहने काे कहा गया है। ताकि किसी भी आपातकाल स्थिति में वहां मरीज को भेजा जा सके। स्वास्थ्य केंद्र चाका, अरैल, झूंसी समेत कुछ निजी अस्पताल भी इसमें शामिल हैं।

आयुष के डाॅक्टर भी मेले में करेंगे इलाज

क्षेत्रीय आयुवेर्दिक अधिकारी डॉ. शारदा प्रसाद बताते हैं कि मेले में आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक चिकित्सा पद्धति के तहत इलाज किया जाएगा। डॉक्टरों की लिस्ट तैयार की जा रही है।

Related posts