माघ मेला में अबकी बन रही छह लेन की सड़क ताकि भीड़ में भी आवागमन रहे आसान

 माघ मेला अब बस लगभग बसने ही जा रही है। तैयारी जोरों पर है। सड़कों को तैयार किया जा रहा है। कल्पवासियों के आने से पहले मेले को पूरी तरह से सजा दिया जाएगा।  इस बार माघ मेले के मुख्य मार्गों की सड़कें छह लेन की बनाई जा रही है। इसके बनने से भीड़ बढ़ने पर भी लोगों को आवागमन में परेशानी नहीं होगी। इन सड़काें की चकर्ड प्लेट को बांधने का काम किया जा रहा है।

इसके अलावा गाटा मार्ग बनाने के लिए चकर्ड प्लेट भी पहुंचायी जा रही है। मेला क्षेत्र में चकर्ड प्लेट की 16 मुख्य सड़कें और 80 से अधिक गाटा मार्ग बनाना था। अभी तक सभी सड़कों का का पूरा नहीं हुआ लेकिन अब तक मुख्य मार्गों पर काम लगभग हो चुका है। मेले में आने वाली भीड़ काे देखते हुए कमिश्नर संजय गोयल ने कहा था कि कुछ सड़कों को छह लेन का बनाया जाएगा। उनके आदेश पर पांच पुलों और संगम लोवर और संगम अपर मार्ग को छह लेन का बनाया गया है। इन्हीं मार्गों पर सबसे अधिक भीड़ होती है। इन मार्गों पर चकर्ड प्लेट डाल दी गई और उसे नट बोल्ट से बांधने का काम चल रहा है। मेला अधिकारी ने बताया कि सभी काम तेजी से कराए जा रहे हैं। मकर संक्रांति से पहले मेला सज जाएगा।

चकर्ड प्लेट की सड़क लोक निर्माण विभाग बना रहा है और उस पर जल निगम के टैंकर से पानी डालना है। लेकिन पानी न डाले जाने से चकर्ड प्लेट टेढ़ी हो रही है। लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता ने सत्येंद्र नाथ ने इसकी शिकायत जल निगम के अधीक्षण अभियंता आनंद दुबे से की। उन्होंने कहा कि मंगलवार को पानी का छिड़काव कराया जाएगा।

Related posts