मुंबई क्रूज ड्रग्स केस की निगरानी कर रहे अफसर की बढ़ी सुरक्षा

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस की निगरानी कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है। हाई प्रोफाइल केस की जांच कर रहे वानखेड़े ने पिछले दिनों आरोप लगाया था कि दो पुलिस वाले उनकी मूवमेंट्स की निगरानी कर रहे हैं। वानखेड़े की सुरक्षा के नए प्रोटोकॉल के मुताबिक एनसीबी और मुंबई पुलिस के सशस्त्र गार्ड्स को उनकी सिक्योरिटी फ्लीट में शामिल किया गया है। उनकी आधिकारिक गाड़ी को भी सुरक्षा के लिहाज से बदल दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक सोमवार को समीर वानखेड़े ने एक शिकायत दर्ज कराई थी कि मुंबई पुलिस के दो जवान उनकी निगरानी कर रहे हैं। 

उन्होंने कहा था कि वह मां के अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट गए थे तो वहां भी पुलिस वाले उनकी निगरानी कर रहे थे। कहा जा रहा है कि दोनों पुलिसकर्मी ओशिवारा पुलिस स्टेशन से हैं। यही नहीं उन दोनों पुलिसकर्मियों पर समीर वानखेड़े की ओर से आरोप लगाया गया है कि उन्होंने सीसीटीवी फुटेज ली है ताकि उनकी मूवमेंट को मॉनिटर किया जा सके। समीर वानखेड़े फिलहाल हाई प्रोफाइल मुंबई क्रूज केस की निगरानी कर रहे हैं। इस केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को भी आरोपी बनाया गया है।

समीर वानखेड़े एनसीबी के चर्चित अधिकारी रहे हैं। इससे पहले भी वह कई हाई प्रोफाइल रेड्स में शामिल रहे हैं। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सामने आए ड्रग्स केस की जांच का भी वह हिस्सा थे। इसके अलावा भी कई हाई प्रोफाइल मामलों की जांच में वह शामिल रहे हैं। समीर वानखेड़े की सुरक्षा बढ़ाने के साथ ही उनकी शिकायत के आधार पर मुंबई के पुलिस कमिश्नर ने जांच के भी आदेश दे दिए हैं। कमिश्नर के आदेश के मुताबिक इस मामले की जांच रिपोर्ट एक सप्ताह में आ जाएगी। बता दें कि गुरुवार को भी आर्यन खान की बेल पर सुनवाई हुई, लेकिन कोई फैसला नहीं आ सका। इस मामले में अदालत ने 20 अक्टूबर को फैसला सुनाने की बात कही है। ऐसे में उन्हें 6 दिन और जेल में ही गुजारने होंगे।

Related posts