मुख्तार अंसारी के बेटे समेत आठ गिरफ्तार

माफिया बृजेश सिंह की पेशी की सूचना मिलने पर शुक्रवार को कचहरी को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। पुलिस अफसरों के साथ एसटीएफ ने मोर्चा संभाला था। सघन चेकिंग के दौरान बृजेश सिंह के पहुंचने से पूर्व ही क्राइम ब्रांच ने माफिया और विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे समेत आठ को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। इस सूचना से वहां खलबली मच गई। कचहरी से उठाकर उसे पुलिस लाइन ले गए। देरशाम तक उससे पूछताछ की जाती रही। पुलिस का कहना है कि मुख्तार का बेटा उमर किसी मुकदमे में अभी तक वांछित होने की सूचना नहीं है।

कचहरी में सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम

शुक्रवार को माफिया बृजेश सिंह की पेशी होनी थी, ऐसे में कचहरी परिसर में पुलिस सक्रिय दिखी। बृजेश सिंह को वाराणसी से माननीयों की कोर्ट में पेशी पर आना था। मुख्तार के समर्थक गवाही देने पहुंचे थे। कई थानों की पुलिस गवाह को गवाही दिलाने कोर्ट में लेकर पहुंची थी। इस दौरान कचहरी परिसर को चारों तरफ से घेर लिया गया था। नई बिल्डिंग में सभी लोगों की मेटल डिटेक्टर से जांच की जा रही थी। इस बीच क्राइम ब्रांच को पता चला कि कचहरी परिसर के अंदर माफिया मुख्तार अंसारी का छोटा बेटा उमर साथियों के साथ मौजूद है। क्राइम ब्रांच ने उसे तुरंत ही पूछताछ के लिए उठा लिया।

कहीं गैंगवार की साजिश तो नहीं

क्राइम ब्रांच की टीम मुख्तार के बेटे उमर को लेकर पुलिस लाइन पहुंची। उसके साथी को भी पकड़ लिया गया। इसकी सूचना पुलिस अफसरों को दी गई। जांच में सहयोग के लिए एसटीएफ भी लगा दी गई। पुलिस और एसटीएफ मुख्तार के बेटे उमर से पूछताछ में जुट गई। सबसे अहम सवाल था कि बृजेश सिंह की पेशी से पूर्व वह कचहरी परिसर में क्यों आया था। कहीं कोई गैंगवार की साजिश तो नहीं रची गई थी। सभी एजेंसियां उसके मोबाइल की डिटेल पता करने के लिए छानबीन में जुट गई। कॉल डिटेल के अलावा उसकी व्हाट्सएप कॉलिंग भी चेक की गई। देर शाम तक छानबीन चलती रही। डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने बताया कि मुख्तार के बेटे को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

Related posts