मुल्ला बरादर ने ज़ख़्मी होने की ख़बर का किया खंडन

अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान सरकार के उप प्रधानमंत्री मुल्ला अब्दुल ग़नी बरादर ने अपने घायल होने की ख़बर का खंडन किया है.

बरादर ने उन ख़बरों को ग़लत बताया है जिसमें कहा जा रहा था कि तालिबान के एक प्रतिद्वंद्वी गुट के साथ हिंसा में वह घायल हो गए हैं.

तालिबान के सह-संस्थापक बरादर बीते कई दिनों से सार्वजनिक तौर पर नज़र नहीं आये थे, जिसके बाद कई तरह के कयास लगाए जा रहे थे.

तालिबान नेताओं के बीच विवाद की ख़बरें भी आयीं.

ख़बरों में कहा गया कि बरादर और हक़्क़ानी नेटवर्क के प्रति वफ़ादार एक प्रतिद्वंद्वी गुट के बीच विवाद हुआ है. लेकिन बरादर ने किसी भी तरह की आंतरिक कलह की ख़बर का खंडन किया है.

बरादर से जब पूछा गया कि क्या उन्हें चोट लगी है? तो उन्होंने कहा, “नहीं, यह सच नहीं है. मैं ठीक हूं और स्वस्थ हूं.”

“मैं काबुल से बाहर था और इन फ़र्ज़ी ख़बरों को ख़ारिज करने के लिए मेरे पास इंटरनेट नहीं था.”

दोहा स्थित तालिबान के राजनीतिक कार्यालय ने ट्विटर पर एक छोटी सी क्लिप जारी की है जिसमें बरादर एक सरकारी टेलीविज़न साक्षात्कारकर्ता के बगल में एक सोफ़े पर बैठे हुए हैं. वह सोफ़े पर बैठकर कुछ पढ़ रहे हैं.

Related posts