श्रृंग्वेरपुर धाम में परियोजनाओं का लोकार्पण कर बोले धार्मिक स्थलों को बनाएंगे आकर्षक : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

धार्मिक-पौराणिक स्थलों का कायाकल्प करने पर सरकार का विशेष जोर है। धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए हर काम तेजी से पूरा किया जाएगा। यह प्रतिबद्धता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जताई है। उन्होंने शुक्रवार को श्रृंगवेरपुर धाम में पर्यटन विभाग की कई परियोजनाओं का वर्चुअल लोकार्पण व शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017 से पहले सनातन धर्म व संस्कृति के प्रतीक कुंभ मेला को लेकर विशेष ध्यान नहीं दिया जाता था। हमारी सरकार बनने पर 2019 में प्रयागराज में अद्भुत कुंभ का आयोजन किया गया, उसकी सराहना हर किसी ने की।

मुख्यमंत्री से वर्चुअल संवाद के लिए पर्यटन विभाग ने धाम स्थित यात्री शेड में मंच बनवाया। वहां जनप्रतिनिधि व आमजन शामिल हुए। फूलपुर की सांसद केशरीदेवी पटेल ने कहा कि श्रृंगवेरपुर धाम का चहुंमुखी विकास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कुशल नेतृत्व में उन क्षेत्रों व धार्मिक स्थलों का कायाकल्प हो रहा है, जो वर्षों से उपेक्षित थे। विधायक विक्रमाजीत मौर्य ने कहा कि श्रृंगवेरपुर धाम ही नहीं अपितु संगमनगरी में बड़े पैमाने पर विकास कार्य हुए हैं। सड़कों का जाल बिछाया गया है। अब गंगा पर पुल बनाए जाने की तैयारी है। राम वनगमन मार्ग बनाया जा रहा है। इसका श्रेय मोदी और योगी के साथ डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को भी जाता है। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह ने आभार ज्ञापित करते हुए भविष्य में कराए जाने वाले कार्यों पर प्रकाश डाला। इस दौरान पूर्व विधायक प्रभाशंकर पांडेय व गुरु प्रसाद मौर्य, कन्हैयालाल पांडेय, बालकृष्ण पांडेय, सियाराम सरोज, अरुण द्विवेदी आदि ने अपने विचार व्यक्त किए। संचालन उमेश चंद्र द्विवेदी ने किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत श्रृंगवेरपुर में संध्या घाट के विकास, टूरिस्ट फेसेलिटी सेंटर निर्माण, संपर्क मार्ग, सोलर लाइट, साइनेज, श्रीराम शयन स्थल, वीर आसन, सीता कुंड का विकास लोकार्पण किया। इन्हें कुल 2416.81 लाख रुपये की लागत से बनाया गया है।

मुख्यमंत्री ने राज्य योजना के अंतर्गत श्रृंगवेरपुर धाम में निषादराज पार्क के निर्माण (लागत 1449.04 लाख रुपये), श्रृंगवेपर में संध्या घाट से रामचौरा घाट के मध्य पाथवे का निर्माण (लागत 969.66 लाख रुपये) का शिलान्यास किया है।

Related posts