CAA : दिल्ली में बुझी तो अब मेघालय में भड़की हिंसा की आग, 1 की मौत, 6 जिलों में इंटरनेट बंद, कर्फ्यू

meghalaya

चैतन्य भारत न्यूज

शिलॉन्ग. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर देशभर के कई हिस्सों में पिछले कई महीनों से विरोध-प्रदर्शन हो रहा है। दिल्ली में तीन दिन तक हुई हिंसा के बाद अब मेघालय में भी सीएए को लेकर भी झड़प हो गई है। इस घटना में अब तक एक व्यक्ति की मौत हो गई है और कई घायल हुए हैं।



जानकारी के मुताबिक, मेघालय के पूर्वी खासी हिल्स (Khasi Hills) जिले में नागरिकता कानून विरोधी और इनर लाइन परमिट (आईएलपी-ILP) के समर्थन में हुई एक बैठक के दौरान स्टूडेंट्स यूनियन (केएसयू ) के सदस्यों और गैर आदिवासियों के बीच झड़प हो गई। यह बैठक शुक्रवार को जिले के इचामति इलाके में हुई थी। इस दौरान केएसयू के एक सदस्य और एक पुलिस अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए। उनका स्थानीय अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।मेघालय पुलिस ने शिलॉन्ग और आसपास के इलाके में कर्फ्यू लगा दिया है।

सूत्रों के मुताबिक, केएसयू के सदस्य लुरशाई हाइनेविता की इलाज के दौरान मौत हो गई। अपने साथी की मौत के बाद केएसयू के सदस्यों ने इस झड़प को उग्र रूप दे दिया। मामला बढ़ता देख मेघालय के छह जिलों पूर्वी जयंतिया हिल्स, पश्चिम जयंतिया हिल्स, पूर्वी खासी हिल्स, री भोई, पश्चिमी खासी हिल्स और दक्षिण पश्चिम खासी हिल्स में शुक्रवार रात से 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी गई।

गौरतलब है कि रविवार को दिल्ली के उत्तर पूर्वी इलाके में नागरिकता संशोधन कानून को विरोध शुरू हुआ था जो अगले तीन दिन तक चला। गुरुवार को दिल्ली में हिंसा थमी। दिल्ली हिंसा में अब तक 42 लोगों की जान जा चुकी है।

ये भी पढ़े…

दिल्ली हिंसा: AAP के पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ तीन केस दर्ज, पार्टी ने किया सस्पेंड, घर को किया गया सील

दिल्ली हिंसा: जब चांदबाग इलाके में हिंसा के दौरान मंदिर की सुरक्षा के लिए ढाल बने मुस्लिम

दिल्ली हिंसा की सुनवाई कर रहे जस्टिस मुरलीधर का देर रात हुआ ट्रांसफर, कांग्रेस बोली- यह शर्मनाक कार्रवाई

Related posts