कोरोना संक्रमण फैलाने के लिए सड़कों पर फेंके 100, 200 व 500 के नोट, पुलिस ने सैनिटाइज कर जब्त किया

चैतन्य भारत न्यूज

इंदौर. कोरोना वायरस के जबरदस्त संक्रमण से जूझ रहे इंदौर शहर में कुछ शरारती लोगों ने संक्रमण फैलाने की कोशिश की है। गुरुवार को इंदौर के दो क्षेत्रों में नोट फेंके जाने की घटना से हड़कंप मच गया। सड़कों पर जो नोट फेंके गए थे वो 100, 200 व 500 रुपए के थे। हालांकि, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी नोटों को पत्थरों से दबा दिया और फिर नगर निगम की टीमों ने मौके पर इन्हें सैनिटाइज कर जब्त कर लिया।

पहली घटना

पहली घटना इंदौर की खातीपुरा-गौरी नगर रोड की है, जहां गुरुवार सुबह नोट फेंके जाने की घटना हुई। नगर निगम के जोनल अधिकारी नरेंद्र कुरील ने बताया कि, सुबह उन्हें सूचना मिली कि खातीपुरा मेन रोड स्थित चंद्रवंशीय क्षत्रिय खाती समाज धर्मशाला के पास दोपहर 12 बजे कोई अज्ञात कार चालक नोट उड़ाकर चला गया है। इनमें 100, 200 और 500 रुपये के करीब 25 नोट हैं। इसके बाद तुरंत निगम व हीरानगर थाने की पुलिस की टीमें मौके पर पहुंची और सभी नोटों को सैनिटाइज कर डंडों की सहायता से पॉलिथिन में भरकर जब्त कर लिया। नोट किसने फेंके अब तक इस बारे में जानकारी नहीं मिली है। दो सीसीटीवी कैमरे भी खंगाल गए लेकिन उसमे भी किसी संदिग्ध वाहन या व्यक्ति के आने-जाने के सुबूत नहीं मिले हैं।

दूसरी घटना

दूसरी घटना शहर के तुकोगंज क्षेत्र की है जहां पर भी पांच सौ के दो नोट पड़े हुए हैं। लोगों का कहना है कि, ये नोट संक्रमित हैं और इसे कोरोना फैलाने के मकसद से फेंके गए हैं। थाना प्रभारी निर्मल श्रीवास ने बताया कि, ये नोट राणी सती गेट स्थित डॉक्टर बंगलो के आगे वायएन रोड पर पड़े मिले थे। नोटों को सैनिटाइज करवाकर जब्त किया गया। यहां भी नोट किसने फेंके इसका पता नहीं चल सका है। पुलिस दोनों मामलों की जांच कर रही है।

दिल्ली और राजस्थान में भी मिले थे नोट

गौरतलब है कि इंदौर से पहले दिल्ली और राजस्थान से भी सड़कों पर नोट फेंके जाने के मामले सामने आ चुके हैं। दिल्ली के केशव नगर इलाके में 2 हजार रुपए के नोट सड़क पर पड़े मिले थे। बाद में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पूछताछ की जब पता चला कि एक व्यक्ति की जेब से ये गलती से गिर गए थे, उसने ये नोट वहीं के एटीएम से निकाले थे। जब उसने बैंक स्टेटमेंट दिखाया तो पुलिस ने उसे रकम वापस कर दी। राजस्थान के भी मालपुरा के ब्रजलाल नगर के तीन घरों में कुछ लोगों ने अखबार में 5 और 10 रुपए के नोटों को लपेटकर फेंक दिए थे। इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर नोटों को जब्त कर लिया था।

ये भी पढ़े…

कोरोनावायरस: इंदौर में 1 दिन में 244 नए संक्रमित मरीज, 24 घंटे में 8 लोगों की जान गई, 6 माह के बच्चे से लेकर 75 साल के बुजुर्ग तक मिले पॉजिटिव

इंदौर: पुलिस पर पथराव करने वाले 4 आरोपितों में से एक कोरोना पॉजिटिव, जबलपुर जेल में मचा हड़कंप

इंदौर: देश में कोरोनावायरस से पहले डॉक्टर की मौत, नहीं कर रहे थे कोरोना मरीजों का इलाज, फिर भी हुए संक्रमित

Related posts