जींद : चोर ने चुराई कोरोना वैक्सीन की 1710 डोज, 12 घंटे बाद लौटाई और कहा- सॉरी, पता नहीं था ये कोरोना की दवाई है

चैतन्य भारत न्यूज

गुरुग्राम. देश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के बीच हरियाणा के जिंद से कोरोना वैक्‍सीन चोरी होने का मामला सामने आया था। यहां के सिविल हॉस्पिटल से कोरोना वैक्सीन की कुल 1710 डोज की चोरी हुई है, जिसमें कोविशील्ड और कोवैक्सीन दोनों शामिल हैं। हालांकि, चोर ने वैक्‍सीन वापस लौटा दी है।

बुजुर्ग को दे गया वैक्सीन का थैला

यह मामला हरियाणा के जींद जिले का है। बुधवार रात 12 बजे यहां के सिविल हॉस्पिटल के पीपी सेंटर से कोविड-19 वैक्सीन के 1710 डोज की चोरी की सूचना मिली थी। वैक्सीन चोरी की खबर फैलते ही अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया। इसके अगले ही दिन दोपहर करीब 12 बजे एक बाइक सवार युवक सिविल लाइन थाने के बाहर चाय के खोखे पर पहुंचा और वहां पर बैठे एक बुजुर्ग को थैला देकर कहा कि इसे थाने में पहुंचा देना। इसमें मुंशी का खाना है। जब थैले को बुजुर्ग ने थाने में पहुंचाया तो पुलिसकर्मियों ने खोलकर देखा तो उसमें चोरी हुई कोविड वैक्सीन थी। थैले में हाथ से लिखा एक पत्र भी था, जिसमें लिखा था कि ‘सॉॅरी मुझे नहीं पता था कि इसमें कोविड वैक्सीन है’।

ढाई लाख की वैक्सीन बर्बाद

इसके बाद जब पुलिस ने बाहर आकर युवक की तलाश की तो वह नहीं मिला। इसके बाद सफीदों रोड के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच शुरू कर दी गई। हालांकि अब ये वैक्सीन किसी काम की नहीं रह गई है। क्योंकि फ्रीजर से निकाले जाने के बाद ये वैक्सीन किसी काम की नहीं रह जाती है। चोर के कारण करीब ढाई लाख रुपए की 1710 डोज वैक्सीन बर्बाद हो गई है।

 

Related posts