7 मई राशिफल: इन चार राशियों के लिए शुभ है बुद्ध पूर्णिमा का दिन

aaj ka rashifal, 1 march horoscope

चैतन्य भारत न्यूज वैशाख शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि और गुरुवार का दिन है। आइए जानते हैं राशि के अनुसार कैसा बीतेगा आज आपका दिन। मेष- आज शिक्षा के क्षेत्र में आपको उन्नति मिल सकती है। किसी दूसरे का उत्साह देखकर आप उत्साहित हो सकते हैं। समाज में मान सम्मान बढ़ेगा। वृष- आज आपका दिन अच्छा रहेगा। इस राशि के जो लोग पयर्टन के क्षेत्र से जुड़े हैं, उन्हें आर्थिक लाभ मिल सकता है। आज आप दूसरों की भावनाओं का सम्मान करेंगे। मिथुन- आज आपका दिन अच्छा रहेगा। धन लाभ के…

जयंती विशेष: 8 साल की उम्र में लिखी पहली कविता, दो देशों को दिए राष्ट्रगान, जानें नोबेल पुरस्कार विजेता रवींद्रनाथ टैगोर से जुडी खास बातें

चैतन्य भारत न्यूज कवि, कहानीकार, गीतकार, संगीतकार, नाटककार, निबंधकार और चित्रकार रवींद्रनाथ टैगोर जी की आज जयंती है। रवींद्रनाथ टैगोर का जन्म 7 मई 1861 को कोलकाता में हुआ था। वह अपने माता-पिता की तेरहवीं संतान थे। बचपन में उन्हें प्यार से ‘रबी’ बुलाया जाता था। रवींद्रनाथ साहित्य को देश से लेकर अंतराराष्ट्रीय स्तर तक नई पहचान दिलाने वाले शख्स हैं। आइए जानते हैं उनके बारे में कुछ खास बातें- बिना डिग्री लिए लंदन से वापस आए टैगोर रवींद्रनाथ टैगोर की स्कूल की पढ़ाई प्रतिष्ठित सेंट जेवियर स्कूल में हुई।…

बुद्ध पूर्णिमा : आज हुआ था भगवान विष्णु के 9वें अवतार बुद्ध का जन्म, इन उपायों से मिलेगा महालाभ

buddha purnima 2019.buddha purnima shubh muhurat

चैतन्य भारत न्यूज वैशाख माह की पूर्णिमा को भगवान गौतम बुद्ध का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिन को बुद्ध जयंती के रूप में मनाया जाता है। आज यानी 07 मई को बुद्ध पूर्णिमा है। हिन्दू और बौद्ध दोनों ही धर्मों में बुद्ध पूर्णिमा का विशेष महत्त्व होता है। मान्यता है कि गौतम बुद्ध भगवान विष्णु के 9वें अवतार थे। यही कारण है कि हिन्दू धर्म के लोग भी इस त्यौहार को धूमधाम से मनाते हैं। बुद्ध पूर्णिमा के दिन दान-पुण्य करने का विशेष महत्त्व होता है। बौद्ध धर्म के…

तपती गर्मी में भी खिली रहेगी सेहत, बड़े काम के हैं ये टिप्स

summer season tips,summer season skin tips,summer season health tips

चैतन्य भारत न्यूज  भारत में गर्मी का मौसम चल रहा है। तेज धूप, उमस और वातावरण में गर्मी के एहसास से हर व्यक्ति के मुंह से ‘उफ्फ ये गर्मी’ तो सुनने में आ ही जाता है। लेकिन क्या आपको यह पता है कि आखिर यह गर्मी होती क्या है? दरअसल, भारत के ज्यादातर हिस्सों खासकर मैदानी इलाकों में बसंत ऋतु के बाद धीरे-धीरे तापमान बढ़ने लगता है। इसकी वजह यह है कि सूर्य के इर्द- गिर्द चक्कर लगाते समय पृथ्वी थोड़ा तिरछी रहती है। जो गोलार्द्ध सूर्य की तरफ झुका रहता…

सरल भाषा में यहां समझिए ग्रीन, रेड, ऑरेंज और कंटेनमेंट जोन का मतलब

red zone green zone orange zone

चैतन्य भारत न्यूज देशभर में कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ा दिया गया है। लेकिन तीसरे चरण के लॉकडाउन में देश के अलग-अलग हिस्सों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में रखकर कुछ छूट दी गई है। इनमें से एक श्रेणी कंटेनमेंट जोन की भी है। कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन के दौरान सबसे ज्यादा सख्ती लागू है। इस लेख के जरिए हम आपको अलग-अलग जोन का मतलब समझाएंगे और यह भी बताएंगे कि जोन किस आधार पर तय किया जाता है। ग्रीन जोन ग्रीन जोन में ऐसे…

बुद्ध पूर्णिमा 2020 : इस बार बन रहा है राजयोग, मिलेगी हर कार्य में सफलता

buddha purnima 2019,buddha purnima importance

चैतन्य भारत न्यूज वैशाख माह की पूर्णिमा को वैशाख पूर्णिमा कहा जाता है। इस दिन ही बुद्ध पूर्णिमा या बुद्ध जयंती भी मनाई जाती है। इस वर्ष 07 मई को बुद्ध पूर्णिमा मनाई जाएगी। पंडितो के मुताबिक, इस बार बुद्ध पूर्णिमा के दिन समसप्तक राजयोग बन रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दिन देवों के गुरु बृहस्पति और नवग्रहों के राजा सूर्यदेव आमने-सामने रहेंगे। इस खास योग में सभी कार्यों में मजबूती के साथ प्रगति मिलती है। बता दें बौद्ध धर्म के अनुयायियों के लिए बुद्ध पूर्णिमा का दिन सबसे…

700 साल पहले भी इस खतरनाक बीमारी से बचने के लिए क्वारंटीन हुए थे लोग, 40 दिन तक पानी में खड़े होकर बचाई थी जान!

plague disease

चैतन्य भारत न्यूज दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। इसके प्रकोप से बचने के लिए लोगों ने खुद को क्वारंटीन किया हुआ है। वैसे यह पहली बार नहीं है जब लोग क्वारंटीन हुए हैं बल्कि संक्रामक बीमारियों को रोकने और लोगों को बचाने के लिए 700 साल पहले भी लोगों को क्वारंटीन किया गया था। इस इटैलियन शब्द से निकला ‘क्वारंटीन’ ओल्ड टेस्टामेंट में भी सेल्फ-आइसोलेशन के बारे में उल्लेखन है। इसके अलावा ‘क्वारंटीन’ शब्द का इतिहास भी बेहद दिलचस्प है। क्वारंटीन शब्द इटैलियन भाषा के ‘क्वारंतीनो’ से…

किसी की निजता, किसी की पहचान, किसी की व्यक्तिगत अभिव्यक्ति है उसका नाम : केरल हाईकोर्ट

kerala high court

चैतन्य भारत न्यूज कोच्चि. केरल हाईकोर्ट ने अपने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा है कि, भारतीय संविधान के अनुच्छेद 19 (1) (ए) के तहत किसी व्यक्ति के नाम को वैसे ही बोलना, जैसी उसका इच्छा है, उस व्यक्ति का मौलिक अधिकार है। एक युवती ने नाम में बदलाव के लिए सीबीएसई को निर्देशित करने की मांग को लेकर याचिका दायर की थी। इस मामले की सुनवाई करते हुए जस्टिस बेचू कुरियन थॉमस ने कहा कि, नाम किसी की निजता, किसी की पहचान और किसी की विशिष्टता की अभिव्यक्ति है। नाम…