सांभर झील में बढ़ता जा रहा पक्षियों की मौत का आंकड़ा, अब तक 24 हजार से ज्यादा की मौत, राेका नमक सप्लाई

sambhar jheel

चैतन्य भारत न्यूज

जयपुर. देश में खारे पानी की सबसे बड़ी सांभर झील में परिंदों की मौत का सिलसिला जारी है। आंकड़ों के मुताबिक, अब तक 24 हजार पक्षियों की मौत हो चुकी है। इन पक्षियों की मौत का खुलासा भी हो गया है। गुरुवार को आईवीआरआई, बरेली से आई जांच रिपोर्ट में इनकी मौतें एवियन बोटूलिज्म नामक बीमारी से होना सामने आया है। बता दें बोटूलिज्म एक किस्म की फूड पॉयजनिंग है जो शरीर में जाने से होती है। ये सेंट्रल नर्वस सिस्टम (CNS) को प्रभावित करती है। पहली बार भारत में इस बीमारी ने हजारों पक्षियों की जान ले ली है।


इसलिए बढ़ती गई बीमारी

जानकारी के मुताबिक, इस बार ज्यादा बारिश से 20 साल बाद झील लबालब हुई। धीरे-धीरे पानी घटा तो तटों पर खारापन बढ़ने लगा। छिछले पानी में सूक्ष्तम जीव क्रस्टेशियन, इनवर्टिब्रेट, प्लेंक्टोंस विषैले होकर मरने लगे। फिर इन्हें खाने से एवियन बोटूलिज्म से पक्षियों की सांसें घुटने लगीं। पक्षियों के मरने के बाद उनके शव गलते-सड़ते रहे। शवों में कीड़े पड़े, जिन्हें खाने के बाद मौतों का आंकड़ा बढ़ता गया। सांभर झील और नावां के प्रभावित क्षेत्रों में मृत पक्षियों को ढूंढ़ने के लिए ड्रोन की मदद ली। विशेषज्ञ सांभर झील में पक्षियों को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। राज्य के पशुपालन मंत्री लालचंद कटारिया ने बताया कि विभाग द्वारा अब तक 735 बीमार पक्षियों का इलाज किया गया, जिनमें से 368 जीवित हैं, जबकि 36 को उड़ने के लिए छोड़ा जा चुका है।

राेकी नमक सप्लाई

बता दें सांभर झील में हजारों परिंदों की मौत हो जाने के बाद से इसके नमक की गुणवत्ता को लेकर सवाल उठ रहे हैं। झील में नमक बनाने वाली 1000 से ज्यादा यूनिट्स पर भी खाने का नमक यूनिट से बाहर भेजने पर रोक लगा दी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, देश में 70 प्रतिशत नमक का उत्पादन गुजरात में होता है लेकिन शेष 30 प्रतिशत नमक उत्पादन में एक बड़ा हिस्सा सांभर का है। सांभर झील से सालाना 25-30 लाख टन नमक बनता है और देश के विभिन्न इलाकों में सप्लाई किया जाता है।

ये भी पढ़े…

इस कीड़े की वजह से हुई सांभर झील में 10 हजार से ज्यादा पक्षियों की मौत! सभी में मिले लकवे के लक्षण

सांभर झील में 25 प्रजातियों के 8 हजार से ज्यादा प्रवासी पक्षी मृत मिले, जहर का शक

 

Related posts