आयुष्मान भारत दिवस: देश के 50 करोड़ लोगों का सहारा बनी आयुष्मान भारत योजना, जानिए क्या हैं इसके लाभ

चैतन्य भारत न्यूज

हर वर्ष 30 अप्रैल को देश में ‘आयुष्मान भारत दिवस’ मनाया जाता है। भारत में आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत 30 अप्रैल 2018 को हुई थी। इस दिन, राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन के बारे में जागरूकता पैदा करने और सामाजिक-आर्थिक और जाति जनगणना डेटाबेस में विवरण को सत्यापित और अद्यतन करने के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में ग्राम सभाओं का आयोजन किया जाता है। आयुष्मान भारत योजना भारत सरकार की एक स्वास्थ्य योजना है, जिसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों खासकर बीपीएल धारक को स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है। आयुष्मान भारत योजना गरीब वर्ग के लोगों का बड़ा सहारा बन गई है और लोग इसका फायदा भी उठा रहे हैं।

आयुष्मान भारत योजना का इतिहास

साल 2018 में 21 मार्च को केंद्र सरकार ने एक नया केंद्र प्रायोजित ‘आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन (AB- NHPM)’ शुरू करने की मंजूरी दी थी। फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के बीजापुर में इस योजना का शुभारंभ किया। इस योजना के माध्यम से 10 करोड़ से ज्यादा परिवारों के लगभग 50 करोड़ लोगों को मुफ्त इलाज मिलता है। इस योजना के अन्तर्गत आने वाले प्रत्येक परिवार को 5 लाख रुपये तक का कैश रहित स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके तहत कई बेहद गंभीर बीमारियों को इलाज के लिए बीमा कवर में शामिल किया गया है।

इस योजना में दो प्रमुख तत्व शामिल हैं

  1. राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना, जो अब आयुष्मान भारत योजना में तब्दील हो चुकी है, के तहत सरकार 10 करोड़ गरीब और कमजोर परिवारों के लगभग 50 करोड़ लाभार्थियों को कवर कर रही है। यह हर परिवार के लिये, प्रति वर्ष 5 लाख रुपये के मुल्य के लिए माध्यमिक और तृतीयक स्तर पर अस्पताल में देखभाल के लिये कवरेज प्रदान करती है। इस योजना के लाभ पूरे देश में कहीं भी पैनल में शामिल निजी या सरकारी अस्पतालों में लिए जा सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी को देश भर के किसी भी सार्वजनिक या निजी अस्पताल से कैशलेस लाभ लेने की अनुमति है।
  2. कल्याण केंद्र, इस योजना के तहत स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र में प्रदान की जाने वाली निम्न सेवाओं को भी शामिल किया गया है: जैसे, गर्भावस्था देखभाल और मातृ स्वास्थ्य सेवाएं, नवजात और शिशु स्वास्थ्य सेवाएं, बाल स्वास्थ्य, जीर्ण संक्रामक रोग, गैर संक्रामक रोग, मानसिक बीमारी का प्रबंधन, दांतों की देखभाल, बुजुर्ग के लिए आपातकालीन चिकित्सा, आदि।

इस योजना से क्या होगा फायदा?

देश में वंचित तबके के लोगों के लिए आयुष्मान भारत योजना बहुत उपयोगी कदम साबित हो रही है। सरकार का मानना है कि पांच लाख रुपए तक की हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम से देश की बड़ी आबादी की स्वास्थ्य समस्या दूर करने में मदद मिल सकती है।

Related posts