इसे कहते हैं जज्बा: एक ही घर से निकले दो-दो अफसर, पत्नी बनी JPSC टॉपर, तो पति की भी 32वीं रैैंक

चैतन्य भारत न्यूज

हजारीबाग. झारखंड लोक सेवा आयोग (JPSC) ने मंगलवार को छठी सिविल सेवा परीक्षा का अंतिम परिणाम जारी कर दिया। परिणाम जारी होने के बाद हजारीबाग में चारों तरफ खुशी का माहौल है। दरअसल हजारीबाग जिले के बड़कागांव प्रखंड के बादम के रहने वाले गौतम कुमार और उनकी पत्नी सुमन गुप्ता ने इस परीक्षा में सफलता हासिल कर ली है। खास बात यह है कि सुमन गुप्ता तो राज्य टॉपर हैं और गौतम ने परीक्षा में 32वीं रैैंक हासिल की है।

एक-दूसरे के मार्गदर्शक बने

जिला के तौर पर हजारीबाग हर बार की तरह इस बार भी अपना एक अलग स्थान बनाया है। इस बार भी हजारीबाग कई अभ्यर्थी इस परीक्षा में सफलता का परचम लहराया है। सुमन और गौतम ने प्रशासनिक परीक्षा के लिए साथ-साथ तैयारी की। पढ़ाई के दौरान उन दोनों ने एक-दूसरे से जानकारियां साझा कीं और एक-दूसरे के मार्गदर्शक भी बने। दोनों ने ही पति-पत्नी का धर्म निभाकर एक साथ ही इस परीक्षा में बाजी मार ली।

एक साल पहले हुई शादी

सुमन और गौतम पिछले कई सालों से इस परीक्षा के लिए मेहनत कर रहे थे। सुमन फिलहाल हजारीबाग पोस्ट ऑफिस में पोस्टल असिस्टेंट के रूप में कार्य कर रही है। वहीं गौतम रांची में सब इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत हैं। वह साल 2018 में दारोगा बने थे। दोनों की शादी एक साल पहले हुई थी। गौतम कुमार के पिता पेशे से किसान हैं। गौतम के एक भाई जागो महतो वर्तमान में गढ़वा में प्रखंड विकास पदाधिकारी हैं।

पांच साल से कर रहे परिणाम का इंतजार

बता दें कि तकनीकी अड़चनों के कारण इस परीक्षा की प्रक्रिया पांच साल से चल रही थी। ऐसे में पांच साल बाद परीक्षा का परिणाम जारी हो सका। इस कारण सभी अभियर्थियों को पांच साल का इंतजार करना पड़ा था। अब दोनों की नजर अब यूपीएससी परीक्षा पर है।

सुमन ने बताया सफलता पाने का मंत्र

टॉपर सुमन गुप्ता ने बताया कि, सफलता पाने का कोई शॉर्टकट नहीं हैं। उन्हों ने कहा कि सफलता पाने के लिए ईमानदार कोशिश व मेहनत की जरूरत होती है। सफलता के लिए कोई शॉर्टकट नहीं होता। टारगेट निर्धारित करें और सिलेबस के अनुसार मेहनत करें। सफलता आपके कदम चूमेगी। सुमन ने जेपीएससी की परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को संदेश देते हुए कहा कि, ‘मौजूदा परिवेश में विद्यार्थियों के पास धैर्य,सहनशीलता की कमी है। लक्ष्य तो निर्धारित कर लेते हैं, लेकिन उसे हासिल करने के लिए शॉर्टकट तलाशते हैं।जो ठीक नहीं है। आपको एकाग्र चित होकर मेहनत करनी होगी।’

Related posts