भारत सरकार की बड़ी कार्रवाई, पाकिस्तान के लिए कस्टम ड्यूटी 200%

चैतन्य भारत न्यूज।

नई दिल्ली।  पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान से आयात होने वाली वस्तुओं पर कस्टम ड्यूटी 200% तक बढ़ा दी है। कस्टम ड्यूटी में बढ़ोत्तरी से पाकिस्तान से भारत को किए जाने वाले निर्यात पर काफी बुरा असर पड़ेगा।सरकार इससे पहले पाकिस्तान को दिया गया मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी वापस ले चुकी है।

पाकिस्तान से आयात होने वाली प्रमुख चीजें फल, तैयार चमड़ा और सीमेंट हैं। अभी तक फलों पर 30-50% और सीमेंट पर 7.5% कस्टम ड्यूटी थी। पुलवामा में गुरुवार को आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हुए हैं।

शुक्रवार को हुई थी बैठक

शुक्रवार को कैबिनेट की सुरक्षा संबंधी समिति की बैठक हुई थी। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया था। पुलवामा जिले में हुए आतंकवादी हमलों पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार सुबह सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीएस) की बैठक में पाकिस्तान को अलग-थलग किए जाने को लेकर कई फैसले लिए गए। जिसमें मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा भी शामिल है।

1996 में दिया था एमएफएन का दर्जा 

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन (एमएफएन) का दर्जा वापस ले लिया गया है। बता दें डब्ल्यूटीओ बनने के साल भर बाद भारत ने पाकिस्तान को 1996 में एमएफएन का दर्जा दिया था।

यह भी पढ़ें…

देश को कोई शक्ति तोड़ नहीं सकती, पूरा विपक्ष सरकार के साथः राहुल गांधी

बैठक में लिए बड़े फैसले

  • पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया गया है।
  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान को अलग-थलग करने के लिए बात की जाएगी।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना को खुली छूट दे दी है। उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ खुली जंग छेड़ दी है, उन्होंने कहा कि आतंकवादी बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं।
  • उन्होंने साफ कहा उनके इस कायरतापूर्ण कृत्य का करारा जवाब मिलेगा।

 

Related posts