जम्मू में कर्फ्यू दूसरे दिन भी जारी, वाहनों के लिए खोला नेशनल हाईवे

चैतन्य भारत न्यूज।

आतंकी हमले के बाद जम्मू में कर्फ्यू दूसरे दिन भी जारी है। परिवहन विभाग के अनुसार शनिवार को फंसे वाहनों को निकालने नेशनल हाईवे खोल दिया गया है। इन्हें जम्मू से श्रीनगर की ओर जाने की अनुमति दी जाएगी। जानकारी अनुसार कश्मीर घाटी में करीब 7,000 वाहन फंसे हुए हैं। धीरे धीरे सभी को निकाला जा रहा है।

40 जवान हुए हैं शहीद

पुलवामा हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद लोगों में भारी आक्रोश है। सीआरपीएफ पर आतंकवादी हमले के बाद लोग पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी और प्रदर्शन कर सरकार से कड़ी कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं। जम्मू में प्रदर्शन हिंसक होने पर शहर में कर्फ्यू लगा दिया है। जानकारी अनुसार हिंसक झड़पों में डीआईजी समेत 40 से अधिक लोग जख्मी हो गए हैं।

इंटरनेट सेवा बंद

प्रदर्शनकारियों ने कई जगह वाहन फूंक दिए, और कई अन्य वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके साथ ही इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। वहीं सेना भी लोगों से सहयोग की अपील कर रही है।

जम्मू कश्मीरः आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद

पुलिस ने शुरु में हालातों पर काबू करने के लिए आंसू गैस और लाठी का इस्तेमाल किया, लेकिन इसके बाद कर्फ्यू लगा दी। शुरुआत में गुज्जर नगर, तालाब खटिकन, जनीपुर, बख्शी नगर, चेन्नी हिमत, बस स्टैंड व पुराने शहर के कुछ दूसरे इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया और बाद में पूरे जम्मू में लागू कर दिया गया।

40 जवान शहीद हुए हैं शहीद

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए जबकि कई गंभीर रूप से घायल हैं।

 

Related posts