पटना एयरपोर्ट पर खुला देश का पहला एयर एंबुलेंस काउंटर, भारत के किसी भी अस्पताल में पांच घंटे में पहुंचाएगी

air ambulance

चैतन्य भारत न्यूज

पटना. बिहार की राजधानी पटना में अब गंभीर स्थिति में बाहर इलाज कराने जाने के लिए एयर एंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध होगी। हालांकि, इसके लिए लाखों रुपए खर्च करने होंगे। बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने गुरुवार को पटना स्थित लोकनायक जयप्रकाश एयरपोर्ट पर एयर एंबुलेन्स के काउंटर का उदघाटन किया।


देश का पहला एयर एंबुलेंस काउंटर

मंगल पांडेय ने ट्वीट कर पटना एयरपोर्ट पर एयर एंबुलेंस काउंटर खोले जाने की सूचना दी। खास बात यह है कि पटना एयरपोर्ट पर इस तरह का यह देश का पहला काउंटर है। अब तक दिल्ली, कोलकाता समेत अन्य बड़े शहरों के एयरपोर्ट पर भी इस तरह का काउंटर नहीं है, जहां से मरीज के परिजन सीधे एयर एंबुलेंस बुक कर सकें।

पांच घंटे में पहुंचाने की जिम्मेदारी

स्वास्थ्य मंत्री पांडेय ने कहा कि, ‘अब बिहार के लोगों को एयर एंबुलेंस के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। पटना एयरपोर्ट पर इसके लिए अलग से काउंटर खोले जाने के बाद कोई भी व्यक्ति आसानी से बुकिंग कर सकता है। किसी रोगी के लिए बुकिंग करने के पांच घंटे के अंदर उन्हें गंतव्य हॉस्पिटल के आइसीयू तक पहुंचाने की गारंटी दी जा रही है। इसके जरिए रोगियों का समय पर इलाज हो सकेगा और उन्हें बेहद कम पैसे में यह सुविधा उपलब्ध हो जाएगी।’

इतना होगा किराया

जानकारी के मुताबिक, एयर एंबुलेंस में पटना से दिल्ली का किराया 4.80 लाख होगा। पटना से दिल्ली जाने में एयर एंबुलेंस का सफर करीब दो घंटे का होगा। साथ ही पटना से मरीज को कोलकाता भी ले जाया जा सकता है। लेकिन कोलकाता ले जाने के लिए करीब 7.50 लाख किराया देना होगा। दरअसल, एयर एंबुलेंस दिल्ली से आने के बाद मरीज को कोलकाता ले जाएगा फिर वो वहां से दिल्ली के लिए टेकऑफ करेगा। ऐसे में फ्लाइंग टाइम अधिक हो जाएगा, इसलिए दिल्ली के मुकाबले कोलकाता या अन्य किसी शहर का किराया अधिक होगा।

एंबुलेंस में मिलेगी ये सुविधाएं

एयर एंबुलेंस में मरीज के साथ-साथ उनके दो परिजन भी जा सकेंगे। इसमें डॉक्टरों की टीम भी रहेगी। इस एंबुलेंस में सभी जरुरी मेडिकल उपकरण भी लगे हुए हैं। मरीज के परिजन को सबसे पहले काउंटर पर इसकी सुचना देनी होगी। साथ ही मरीज के इलाज और उसे जिस अस्पताल से रेफर किया गया है, वहां के
कागज देना होगा। मरीज को कहां ले जाना है इसकी जानकारी देनी होगी। मरीज की बीमारी के बारे में बताना होगा। फिर संबंधित जगह के डॉक्टरों की टीम अस्पताल में इलाज करा रहे मरीज के डॉक्टर से बात करेगी। इसके बाद ही परिजनों को रकम जमा करवानी होगी।

अगले महीने गया में शुरू होगी सुविधा

एयर एंबुलेंस के संचालक अंशु अमन ने बताया कि, पहले किसी भी व्यक्ति को एयर एंबुलेंस बुक कराने के लिए पटना से दिल्ली तक भटकना पड़ता था। इसमें काफी ज्यादा पैसे तो लगते ही थे और साथ ही समय भी अधिक लग जाता था। लेकिन अब काउंटर बन जाने से जरूरतमंदों को परेशान नहीं होना पड़ेगा। कोई भी व्यक्ति कभी भी इसे बुक करने को आ सकता है। बुकिंग के दो से तीन घंटे के अंदर एयर एंबुलेंस या फिर एयर हेलीकॉप्टर उपलब्ध करा दिया जाएगा।’ अंशु ने कहा, ‘पटना एयरपोर्ट पर अभी पार्किंग नहीं मिली है। लेकिन जैसे ही पार्किंग मिल जाती है उसके बाद एक एयर एंबुलेंस चौबीसों घंटे स्टैंडबाई में रहेगा।’ बता दें अगले महीने से गया से भी यह सुविधा शुरू होगी। वहां भी काउंटर खोला जाएगा।

ये भी पढ़े… 

पटना से गिरफ्तार हुआ दाऊद इब्राहिम का करीबी डॉन एजाज लकड़वाला, 2003 से तलाश में थी मुंबई पुलिस

पटना में लगे नीतीश कुमार के लापता होने के पोस्टर, जानिए क्या है मामला

बाढ़ और बारिश से बेहाल हुआ पटना, कहीं दीवार गिरी, कहीं पेड़ तो कहीं अस्पतालों में भरा पानी

Related posts