वायु सेना प्रमुख ने स्वीकारी गलती, कहा- अपने ही हेलिकॉप्टर को मार गिराना एक बहुत बड़ी चूक थी

air chief marshal rks bhadauria

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. भारतीय वायुसेना के नए प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने शुक्रवार को कहा कि, पिछले एक साल में वायु सेना ने कई सफलताएं हासिल की। इसमें बालाकोट में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के अड्डों पर एयर स्ट्राइक शामिल है। साथ ही भारत ने पाकिस्तान का एफ-16 विमान भी मार गिराया था। हालांकि, पाकिस्तान के साथ हवाई संघर्ष के दौरान अपने ही Mi-17 V5 हेलिकॉप्टर को मार गिराना हमारी बहुत बड़ी चूक थी। एयर चीफ मार्शल ने यह माना कि, वायु सेना की गलती की वजह से बडगाम हादसा हुआ था।



बता दें 27 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के बडगाम में एक दुर्घटना हुई थी जिसमें भारतीय वायु सेना के 6 जवान और एक आम नागरिक की मौत हो गई थी। इस दौरान एयर फोर्स चीफ ने भारत को आश्वस्त भी किया है कि भविष्य में कभी ऐसी चूक दोबारा नहीं होगी। वायुसेना की वार्षिक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एयर चीफ मार्शल ने यह भी कहा कि, ‘वायु सेना छोटे नोटिस में युद्ध लड़ने के लिए तैयार है। बडगाम हादसा हमारी गलती थी। कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी के जरिए हमें पता चला कि Mi 17 V5 हेलीकॉप्टर हमारी ही एक मिसाइल से टकरा गया था। इस मामले में अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।’ वायुसेना प्रमुख ने बताया कि, इस मामले में दो अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई हुई है। मृतकों को युद्ध हताहत माना जाएगा।

कब हुआ था बडगाम हादसा

14 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के जवानों पर हमला किया था, जिसमें 45 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद पाकिस्तान से बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में घुसकर एयर स्ट्राइक की थी। इस एयर स्ट्राइक में वायुसेना के जवानों ने जैश-ए-मोहम्मद के कई आतंकी अड्डों पर बम बरसाकर उन्हें तबाह कर दिया था। एयर फोर्स के बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान यह घटना हुई थी, जिसमें भारत का Mi-17 V5 हेलिकॉप्टर हादसे का शिकार हो गया था।

ये भी पढ़े…

बालाकोट में बम बरसाकर कैसे तबाह किए थे आतंकी अड्डे? वायुसेना ने जारी किया एयरस्ट्राइक का वीडियो

नदी में फंसे 2 लोगों को वायुसेना ने इस तरह बचाया, धड़कनें बढ़ा देगा रेस्क्यू ऑपरेशन का यह वीडियो

लापता विमान AN-32 में सवार सभी 13 यात्रियों की मौत, वायुसेना ने परिवार को दी जानकारी

Related posts