फ‍िलिपींस में फूटा ताल ज्‍वालामुखी, 50 हजार फीट तक पहुंचा राख और धुआं, 16,700 लोग हटाए गए

taal volcano,

चैतन्य भारत न्यूज

तालिसे शहर. फिलीपींस के बाटनगैस प्रांत के तालिसे शहर में रविवार को ताल ज्वालामुखी विस्फोट हुआ जिससे इलाके के चारों ओर अफरा-तफरी मच गई। यह इतना भयावह नजारा था कि आसपास के शहरों के लोग घबरा गए। इस ज्वालामुखी के फटने के बाद करीब 50 हजार फीट ऊंचा राख का बादल बन गया। राख का बादल इतना ज्यादा चार्ज था कि उसने तीन से चार बार आसमान से बिजलियां खींच लीं।



फिलीपींस में अलर्ट घोषित कर दिया गया है। ज्‍वालामुखी के फटने के कारण सैंकड़ों विमान सेवाएं प्रभावित हुई हैं। ज्वालामुखी से राख निकलने और भूंकप के झटकों को देखते हुए नजदीक के इलाके खाली कराए जा रहे हैं। इतना ही नही नजदीकी इलाकों में स्कूल और सरकारी कार्यालय बंद हैं। साथ ही फिलीपींस स्टॉक एक्सचेंज भी एहतियातन बंद रखा गया है। ज्वालामुखी से निकल रही राख के कारण करीब 240 उड़ानें रद्द की गई हैं। प्रभावित इलाके को खाली कराते हुए 16,700 लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर ले जाया गया है। ज्‍वालामुखी विस्‍फोट इतना भयानक था कि इसकी राख 70 किलोमीटर दूर राजधानी मनीला तक पहुंच गई है।

जानकारी के मुताबिक, ज्वालामुखी साल 1977 से लगातार समय-समय पर फट रहा है। इस बार वह 44वीं बार फटा है। रविवार को सुबह 4.33 बजे ज्वालामुखी फटने के बाद से अब तक आसपास के इलाकों में 75 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। सबसे ताकतवर झटका रिक्टर पैमाने पर 6 का आंका गया है। फिलीपींस इंस्टीट्यूट ऑफ वॉल्कैनेलॉजी एंड सीसमोलॉजी ने ज्वालामुखी की वजह से अलर्ट का स्तर 4 कर दिया है यानी बेहद खतरनाक स्थिति। इस अलर्ट को तब जारी किया जाता है जब लगता है कि ज्वालामुखी से अगले कुछ दिनों तक और नुकसान की आशंका होती है।

ये भी पढ़े…

न्यूजीलैंड में ज्वालामुखी के फटने से 5 लोगों की मौत, 18 लोग जख्‍मी

न्यूजीलैंड के व्हाइट आइलैंड ज्वालामुखी में विस्फोट, 100 से ज्यादा लोगों के फंसने की आशंका

इस देश में भभकते ज्वालामुखी पर पिछले 700 साल से विराजमान हैं भगवान गणेश

Related posts