अमित शाह ने किया ऐलान- अगले 4 माह में अयोध्या में बनने जा रहा आसमान छूता भव्य राम मंदिर

amit shah

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड की चुनावी रैली में जनसभा को संबोधित करते हुए ऐलान किया है कि, ‘4 महीने के अंदर अयोध्या में आसमान छूता हुआ भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा।’ उन्होंने यह भी कहा कि, हर कोई राम मंदिर निर्माण चाहता था, लेकिन कांग्रेस और उसके वकील कोर्ट में इसके सामने रोड़ा अटकाते रहते थे।


कपिल सिब्बल को कहा- आपके पेट में क्यों दर्द हो रहा है

पाकुड़ में एक रैली के दौरान शाह ने कहा कि, ‘अभी कुछ समय पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के लिए फैसला दिया। 100 वर्षों से दुनिया भर के भारतीयों की मांग थी कि वहां राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनना चाहिए, लेकिन ये कांग्रेस के नेता और वकील कपिल सिब्बल कोर्ट में कहते थे कि अभी केस मत चलाइये, क्यों भाई आपके पेट में क्यों दर्द हो रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं आप सभी से कहना चाहता हूं कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है, 4 माह के अंदर आसमान को छूता हुआ भव्य राम मंदिर अयोध्या में बनने जा रहा है।’

कांग्रेस पर साधा निशाना

अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, ‘अब मैं एक नई बात देख रहा हूं कि राहुल बाबा पूछते हैं कि कश्मीर की बात आप झारखंड में क्यों कर रहे हो? राहुल बाबा आपको मालूम नहीं है कि झारखंड के सैकड़ों युवाओं ने कहीं CRPF, BSF और सेना में कश्मीर को बचाने के लिए बर्फीली चोटियों पर अपना खून बहाया है।’

धर्मांतरण को रोका

शाह ने कहा कि, ‘जबरन धर्मांतरण इस क्षेत्र का महत्वपूर्ण मुद्दा था। बीजेपी की सरकार आने के बाद रघुबर दास जी ने जबरन धर्मांतरण को बंद करके आदिवासियों की सहायता करने का काम किया है।’ उन्होंने आगे कहा कि, ‘पहले पाकुड़ विधानसभा क्षेत्र में बिजली कभी कभार आती थी, आज मैं गारंटी से कहता हूं कि 16 से 22 घंटे बिजली पूरे क्षेत्र को मिलती हैl 14 हजार 557 गांव में बिजली पहुंचाने का काम रघुवर दास और नरेन्द्र मोदी की सरकार ने किया है।’

हम पिछड़ों को आरक्षण देने का काम करेंगे

अमित शाह ने बीजेपी के घोषणा पत्र का जिक्र करते हुए कहा कि, ‘आज मैं इस धरती से झारखंड के पिछड़े समाज के युवाओं से कहने आया हूं कि हमने अपने घोषणा पत्र में घोषणा की है कि हमारी सरकार बनने के बाद आदिवासी और दलित समाज का आरक्षण कम किए बगैर, हम पिछड़ों को आरक्षण देने का काम करेंगे।’

ये भी पढ़े…

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की अयोध्या राम मंदिर फैसले के खिलाफ दायर सभी 18 पुनर्विचार याचिकाएं

मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन को अयोध्या केस से हटाया, फेसबुक पर पोस्ट कर दी जानकारी

अयोध्या : आज से हुई राम रसोई की शुरुआत, श्रद्धालुओं को निशुल्क मिलेगा भोजन

 

Related posts