अमिताभ बच्चन की आवाज में कोरोना कॉलर ट्यून हटाने की मांग वाली याचिका को दिल्ली हाई कोर्ट ने किया खारिज

चैतन्य भारत न्यूज

मोबाइल फोन पर अमिताभ बच्चन की आवाज में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति आगाह करने वाली कॉलर ट्यून को हटाने की मांग को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया है। इस जनहित याचिका में मांग की गई थी कि अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति जागरूक करने वाली कॉलर ट्यून को हटाया जाए।

याचिकाकर्ता ने दिए ये तर्क

जानकारी के मुताबिक, याचिकाकर्ता की ओर से कॉलर ट्यून हटाने को लेकर कई तरह के तर्क दिए गए हैं। यह तर्क भी दिया गया है कि कोरोना के दौर में कोरोना वॉरियर्स को ही मोबाइल फोन की कॉलर ट्यून में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति जागरूकता कार्यक्रम के तहत हिस्सेदारी दी जानी चाहिए।

साथ ही यह भी कहा गया कि बहुत से लोग कोरोना वॉरियर्स हैं और उन्होंने समाज में बेहतर काम करके एक अच्छा उदाहरण पेश किया है। इतना ही नहीं, अमिताभ बच्चन इस काम के लिए केंद्र सरकार पैसा भी ले रहे हैं। याचिकाकर्ता का कहना है कि जागरूकता कार्यक्रम के लिए मोबाइल पर कॉलर ट्यून अमिताभ बच्चन की जगह उन लोगों की लगाई जानी चाहिए जिन्होंने करोना काल में समाज के लिए सेवा की है।

Related posts