लापता विमान AN-32 में सवार सभी 13 यात्रियों की मौत, वायुसेना ने परिवार को दी जानकारी

an 32,an 32 plane missing,

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. भारतीय वायुसेना के लापता विमान एएन-32 का बचा हुआ मलबा ढूंढने के लिए गुरुवार को वायुसेना द्वारा फिर से तलाशी अभियान चलाया गया। अब तक वायुसेना की टीम को एएन-32 में मौजूद 13 यात्रियों का कोई सुराग नहीं मिला है। ऐसे में यह आशंका जताई जा रही है कि इस विमान क्रैश में सभी 13 यात्रियों की मौत हो गई है।

12 हजार फीट नीचे पड़ा है मलबा

भारतीय वायुसेना की टीम ने सभी यात्रियों के परिवार वालों को उनकी मौत की सुचना दे दी है। बता दें एएन-32 विमान ने 3 जून को असम के जोरहाट से उड़ान भरी थी। उड़ान के कुछ ही देर बाद वह लापता हो गया था। विमान में कुल 13 लोग सवार थे। इनमें 8 क्रू मेंबर शामिल थे। घटना के करीब 8 दिन बाद यानी 11 जून को अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम सियांग के उत्तर में विमान का कुछ मलबा मिला था। यह मलबा 12 हजार फीट नीचे पड़ा था। जानकारी के मुताबिक, विमान अरुणाचल प्रदेश के मेचुका में एडवांस लैंडिंग ग्राउंड तक जा रहा था। मेचुका चीन से सटे अरुणाचल प्रदेश के सियांग जिले का एक छोटा-सा शहर है।

वायुसेना ने बताया गया कि, लापता विमान के बाकी मलबे को तलाशने के लिए बुधवार से ही तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। मंगलवार शाम को सेना ने मलबे वाले स्थान पर चीता और एडवांस लाइट हेलिकॉप्टर को उतारने की कोशिश भी की थी। लेकिन घने पहाड़ी जंगल होने के कारण वहां हेलिकॉप्टर नहीं उतारा जा सका। बता दें एएन-32 के मलबे को खोजने के लिए वायुसेना के MI17S और एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर को लगाया गया है।

ये भी पढ़े… 

उड़ान भरने के आधे घंटे बाद लापता हुआ वायुसेना का AN-32 विमान, 13 लोग थे सवार

लापता होने के 8 दिन बाद मिला एएन-32 विमान का मलबा, 13 लोग थे सवार

 

Related posts