अस्पताल में 5 घंटे पड़ा रहा शव, आंखों को खाती रहीं चींट‍ियां, पति की दुर्दशा देख बेहाल हुई पत्नी

shivpuri,madhya pradesh,dead body lying in shivpuri, dead body,

चैतन्य भारत न्यूज

शिवपुरी. मध्यप्रदेश के श‍िवपुरी जिले के एक सरकारी अस्पताल से ऐसी लापरवाही सामने आई ज‍िसने सभी को हैरान कर द‍िया। यहां के मेडिकल वार्ड में दो दिन से भर्ती फक्कड़ कॉलोनी निवासी मरीज बालचंद्र लोधी की मंगलवार की सुबह 6 बजे मौत हो गई। इसके बाद भी मरीज का शव पांच घंटे पड़ा रहा और चींटियां शव की आंखों में रेंगती रहीं। इतना ही नहीं बल्कि शव की आंखों में चींट‍ियां घुसती रही लेक‍िन उस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। मामले सामने आने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा इस तरह की असंवेदनशीलता कतई बर्दाश्त नहीं की जा सकती।



खबरों के मुताबिक, मरीज बालचंद्र लोधी को बीमार हालत में रविवार को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां मंगलवार सुबह 6 बजे उसकी मौत हो गई। इसके बाद भी 5 घंटे मरीज का शव पलंग पर पड़ा रहा और उसकी आंखों के ऊपर चींटियों ने छत्ता बना दिया।

पति के शव की दुर्दशा देख बेहाल हुई पत्नी

पति की मौत की जानकारी लगते ही पत्नी रामश्री लोधी जब अस्पताल पहुंची तो पति के शव की दुर्दशा देख वह दहाड़े मारकर रोने लगी। उसने पति के शव की आंखों में लगी चींटियों को हटाया। वार्ड में भर्ती मरीजों के परिजनों ने उसे जैसे-तैसे संभाला और औपचारिकताएं पूरी कर पति के शव को ले गई। जानकारी के मुताबिक, मृतक और उसका परिवार बेहद गरीब है और मजदूरी करके अपना गुजर-बसर करता है।

वहीं अस्पताल के इस मामले को सीएमएचओ डॉक्टर अर्जुन लाल शर्मा ने गंभीर माना है। खबरों के मुताबिक, उन्होंने कहा कि वो इस मामले की जांच करवाएंगे और मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री का ट्वीट 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शिवपुरी जिला अस्पताल की इस घटना को बेहद गंभीरता से लेते हुए कड़ी नाराजगी जताई है। उन्होंने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही कहा है कि, ‘इस तरह की इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटनाएं कतई बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। दोषी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।’

कमलनाथ के अलावा प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई और तत्काल अफसरों को तलब किया। बाद में कलेक्टर और कांग्रेस कार्यकर्ता भी अस्पताल पहुंच गए।

ये भी पढ़े…

पेट दर्द की शिकायत लेकर अस्पताल पहुंचे दो युवक, डॉक्टर ने दी प्रेग्नेंसी टेस्ट की सलाह

प्रसव के दौरान गर्भवती के दर्द को कम करने के लिए अस्पताल ने अपनाया यह अनोखा तरीका

Related posts