सेना प्रमुख नरवणे ने चीनी सेना से झड़प में शामिल जवानों को किया सम्मानित, बॉर्डर के हालातों का जायजा लिया

चैतन्य भारत न्यूज

सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे इन दिनों दो दिवसीय लद्दाख के दौरे पर हैं। बुधवार को उनकी यात्रा का दूसरा दिन है और आज सेना प्रमुख ने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में अग्रिम मोर्चे का दौरा किया। सेना प्रमुख ने यहां तैनात सैनिकों के साथ बातचीत भी की। इतना ही नहीं बल्कि सेना प्रमुख ने पूर्वी लद्दाख की फॉरवर्ड पोस्ट पर पहुंचकर सैनिकों का सम्मान भी किया।

सेना प्रमुख नरवणे सबसे पहले लेह स्थित सैनिक अस्पताल पहुंचे जहां भारत और चीनी सेना के बीच हुई झड़प में घायल हुए जवानों का इलाज चल रहा है। दिल्ली में सैन्य कमांडरों के कॉन्फ्रेंस में भाग लेने के बाद वह लेह के लिए रवाना हुए थे। इसके बाद सेना प्रमुख ने उन जवानों को प्रशस्ति पत्र दिया, जिन्होंने चीनी सेना का डटकर मुकाबला किया था। उन्होंने अग्रिम मोर्चे का दौरा करते हुए जमीनी हालात का जायजा लिया।


सेना प्रमुख आज ग्राउंड कमांडरों के साथ हालात पर चर्चा करेंगे और फॉरवर्ड स्थानों का भी दौरा करेंगे। बता दंं भारत-चीन बॉर्डर पर लद्दाख में 15 जून को दोनों देशों के सैनिकों के बीच झड़प हुई थी। इस झड़प में भारत के बीस जवान शहीद हुए थे, लेकिन भारतीय सेना ने चीनी सैनिकों को मुंहतोड़ जवाब दिया था। झड़प के बाद सेना प्रमुख का यह लद्दाख का पहला दौरा है। इससे पहले वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने रविवार को लद्दाख का दौरा किया था।

Related posts