सिंगापुर पर केजरीवाल के बयान पर हुई भारत की किरकिरी, विदेश मंत्री बोले- यह बयान गैर जिम्मेदाराना, पुरानी मित्रता को कर सकता है खराब

चैतन्य भारत न्यूज

सिंगापुर में कोरोना के नए वैरिएंट के दावे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल देश और विदेश दोनों जगह घिरते नजर आ रहे हैं। दरअसल, अरविंद केजरीवाल ने नए स्ट्रेन को खतरनाक बताते हुए सिंगापुर से आने वाली उड़ानों पर रोक लगाने की केंद्र सरकार से अपील की थी। इस पर पहले भारत सरकार ने केजरीवाल के आरोपों का जवाब दिया और अब सिंगापुर सरकार ने भी इस पर कड़ी आपत्ति जताते हुए जवाब दिया है। साथ ही भारतीय उच्चायुक्त को तलब कर अपनी नाराजगी जताई है।

विदेश मंत्री का केजरीवाल को जवाब

केजरीवाल ने कहा था कि, ‘इस बात में कोई सच नहीं है कि सिंगापुर में कोविड का नया वैरिएंट मिला है। हमारे देश में ज्यादातर केसों के लिए कोरोना का B।1।617।2 स्ट्रेन ही जिम्मेदार है। इनमें बच्चे भी शामिल हैं।’ इसके बाद विदेश मंत्री एस जयशंकर ने केजरीवाल पर निशाना साधा। उन्होंने और कहा कि, ‘कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सिंगापुर और भारत ठोस भागीदार रहे हैं। हम लॉजिस्टिक्स हब और ऑक्सीजन सप्लायर के रूप में सिंगापुर की भूमिका की सराहना करते हैं। हमारी मदद के लिये सैन्य विमान तैनात करने का उनका भाव हमारे अभूतपूर्व संबंधों को स्पष्ट करता है। कुछ लोगों के गैर-जिम्मेदाराना बयान से हमारे दीर्घकालिक साझेदारी को नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए मैं स्पष्ट कर देता हूं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री का बयान पूरे भारत का बयान नहीं है।’

सिंगापुर हेल्थ मिनिस्ट्री का बयान 

केजरीवाल का बयान सामने आने के बाद सिंगापुर की सरकार ने वहां भारत के हाई कमिश्नर को तलब किया और साथ ही सिंगापुर वैरिएंट वाले ट्वीट पर आपत्ति जताई। सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालकृष्णन ने कहा कि राजनेताओं को फैक्ट पर बात करनी चाहिए। सिंगापुर वैरिएंट जैसी कोई चीज नहीं है। इधर, भारतीय मीडिया में बीते दिन दावा किया गया था कि सिंगापुर में मिले नए वैरिएंट से भारत में तीसरी लहर का खतरा हो सकता है। इस लेकर सिंगापुर की हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा कि जिस वैरिएंट की वजह से देश में मामले बढ़े हैं, वो भारत में मिले वैरिएंट का एक रूप है।

सिंगापुर में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, बच्चों के लिए बेहद खतरनाक, सीएम केजरीवाल बोले- हवाई सेवाएं तुरंत रोकी जाएं

केजरीवाल ने लाइव कर दी मुख्यमंत्रियों के साथ पीएम मोदी की मीटिंग, PM तो टोका तो कहा- गुस्ताखी हुई तो माफी मांगता हूं

केजरीवाल ने हाथ जोड़कर की पीएम मोदी से अपील- सीएम होकर भी कुछ नहीं कर पा रहा, ऑक्सीजन प्लांट्स आर्मी के हवाले करें

Related posts