असम में NRC की फाइनल लिस्ट हुई जारी, 19 लाख से ज्यादा लोग हुए बाहर, 5 जिलों में धारा 144 लागू

assam nrc list

चैतन्य भारत न्यूज

असम में नेशनल सिटीजन रजिस्टर (NRC) की अंतिम लिस्ट शनिवार को जारी कर दी गई है। बता दें पहले यह लिस्ट 31 जुलाई को जारी होनी थी, लेकिन राज्य में बाढ़ आने के कारण एनआरसी अथॉरिटी ने इसे 31 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया था।


गृह मंत्रालय ने शनिवार को अंतिम लिस्ट जारी की। एनआरसी के स्टेट कॉर्डिनेटर प्रतीक हजेला के मुताबिक, 3 करोड़ 11 लाख 21 हजार लोगों का एनआरसी की फाइनल लिस्ट में नाम है और 19,06,657 लोगों को इस लिस्ट से बाहर कर दिया गया। जो लोग इस लिस्ट से संतुष्ट नहीं है, वे फॉरनर्स ट्रिब्यूनल में अपील दाखिल कर सकते हैं। लोग nrcassam.nic.in पर जाकर अपना नाम चेक कर सकते हैं। इसके अलावा assam.mygov.in और assam.gov.in पर भी अपना नाम देख सकते हैं।



राज्य में सुरक्षा व्यवस्था को मद्देनजर रखते हुए गुवाहाटी समेत 5 जिलों में धारा 144 लागू है। साथ ही सुरक्षा-व्यवस्था के लिए 51 कंपनियां तैनात की गई हैं। बता दें एनआरसी को लेकर राज्य में कई अफवाहें फैली हुई हैं। कहा जा रहा था कि जिनके नाम अंतिम लिस्ट में नहीं होंगे, उन्हें जेल में डाल दिया जाएगा या बांग्लादेश भेजा जाएगा। ऐसे में प्रशासन सोशल मीडिया पर लगातार नजर बनाए हुए है। वहीं असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि, असम में बसे किसी भी भारतीय को डरने की जरूरत नहीं है, राज्य सरकार उनके साथ है।’ उन्होंने यह भी कहा कि, लिस्ट में जिनका नाम नहीं होगा, उनकी चिंताओं पर राज्य सरकार ध्यान देगी। वह सुनिश्चित करेगी कि कोई परेशान न हो। मुख्यमंत्री ने लोगों से यह अपील भी की है कि, वे शांति और अमन बनाए रखें।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, फिलहाल असम में 6 डिटेंशन सेंटर चल रहे हैं। इनमें करीब 1 हजार अवैध नागरिक रह रहे हैं। ज्यादातर नागरिक बांग्लादेश और म्यांमार से आए हैं, जो या तो देश की सीमा में बिना किसी कागजात के घुस आए या फिर वे लोग वीजा अवधि खत्म होने के बाद भी राज्य में रह रहे हैं। एनआरसी के मुताबिक, जिस व्यक्ति का सिटिजनशिप रजिस्टर में नहीं होता है उसे अवैध नागरिक माना जाता है।

Related posts