अयोध्या : अब 70 नहीं 107 एकड़ का होगा राम मंदिर परिसर, ट्रस्ट ने खरीदी 7,285 वर्ग फुट जमीन

चैतन्य भारत न्यूज

अयोध्या. उत्तर प्रदेश के अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण जारी है। श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने बताया कि, अब राम मंदिर परिसर 107 एकड़ के क्षेत्र में बनाया जाएगा। पहले ये जगह सिर्फ 70 एकड़ की थी। राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट ने प्रस्तावित कॉम्प्लेक्स के बगल में 7,285 वर्ग फीट जमीन खरीदी है।

जानकारी के मुताबिक, यह नई जमीन सुप्रीम कोर्ट द्वारा नवंबर 2019 में दिए गए फैसले के तहत राम मंदिर के निर्माण के लिए दी गई 70 एकड़ जमीन से सटी हुई है। जमीन अयोध्या के स्थानीय निवासी दीप नारायण से खरीदी है और इसके लिए ट्रस्ट ने 1 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। दीप नारायण ने राम मंदिर ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में अपनी 7,285 वर्ग फीट जमीन की रजिस्ट्री पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं।

ट्रस्टी अनिल मिश्रा ने बताया कि, ‘हमने यह जमीन खरीदी है क्योंकि राम मंदिर के निर्माण के लिए हमें और जगह चाहिए थी। ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई यह जमीन अशरफी भवन के पास स्थित है।’ वहीं, फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह ने बताया कि, ‘जमीन के मालिक दीप नरैन ने ट्रस्ट के सचिव चंपत राय के पक्ष में 7,285 वर्ग फुट भूमि की रजिस्ट्री के दस्तावेजों पर 20 फरवरी को हस्ताक्षर किए। मिश्रा और अपना दल के विधायक इंद्र प्रताप तिवारी ने गवाह के तौर पर दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए। फैजाबाद के उप-पंजीयक एसबी सिंह के कार्यालय में ही यह रजिस्ट्री की गई।’

मंदिर का निर्माण 5 एकड़ जमीन में किया जाएगा

ट्रस्टी अनिल मिश्रा ने कहा, ‘हमें अपने राम मंदिर प्रोजेक्ट के लिए ज्यादा जगह की जरूरत है, इसलिए हमने यह जमीन खरीदी है।’ बता दें कि मुख्य मंदिर का निर्माण 5 एकड़ जमीन में किया जाएगा। वहीं बाकी की 100 एकड़ जमीन में विभिन्न सुविधाएं जैसे संग्रहालय, पुस्तकालय, यज्ञशाला और भगवान राम के जीवन की विभिन्न घटनाओं को दर्शाने वाली चित्र दीर्घा आदि बनाईं जाएंगी।

Related posts