बकरीद पर क्यों दी जाती है बकरे की कुर्बानी? जानिए इसके पीछे की कहानी

bakra eid, kyu manai jaati hai bakra eid, bakra eid 2019 ,bakra eid ka mahatv, bakra eid date and time,bakra eid par kyu di jaati hai bakre ki kurabani

चैतन्य भारत न्यूज

भारत में 12 अगस्‍त यानी सोमवार के दिन बकरीद का त्योहार मनाया जाएगा। मीठी ईद के ठीक दो महीने बाद बकरा ईद यानी कि बकरीद आती है। इस दिन बकरे की कुर्बानी दी जाती है। लेकिन बहुत ही कम लोगों को यह मालूम होगा कि बकरीद पर बकरे के अलावा ऊंट की कुर्बानी देने का भी रिवाज है। हालांकि ऊंट की कुर्बानी का रिवाज देश और दुनिया के सिर्फ कुछ ही इलाकों में निभाया जाता है।

bakra eid, kyu manai jaati hai bakra eid, bakra eid 2019 ,bakra eid ka mahatv, bakra eid date and time,bakra eid par kyu di jaati hai bakre ki kurabani

बकरे की कुर्बानी देने के पीछे एक कहानी है। यह कहानी अलैय सलाम नाम के एक आदमी से जुड़ी हुई है। कहा जाता है कि अलैय सलाम को एक दिन सपने में अल्लाह आए और उन्होंने सलाम से अपने बेटे इस्माइल को कुर्बान करने को कहा। सलाम ने अल्लाह की बात मान ली और अपने बेटे को छुरी लेकर कुर्बान लगे।

bakra eid, kyu manai jaati hai bakra eid, bakra eid 2019 ,bakra eid ka mahatv, bakra eid date and time,bakra eid par kyu di jaati hai bakre ki kurabani

तभी अल्लाह के फरिश्तों ने इस्माइल को छुरी के नीचे से हटाकर उनकी जगह एक मेमने को रख दिया और अल्लाह ने सलाम के नेक जज्‍बे को देखते हुए उनके बेटे को जीवनदान दे दिया। यह पर्व इसी की याद में मनाया जाता है। इसके बाद से ही अल्लाह के हुक्म पर इंसानों की नहीं बल्कि जानवरों की कुर्बानी देने का इस्लामिक कानून शुरू हो गया।

bakra eid, kyu manai jaati hai bakra eid, bakra eid 2019 ,bakra eid ka mahatv, bakra eid date and time,bakra eid par kyu di jaati hai bakre ki kurabani

ऐसे बकरे को किया जाता है कुर्बान

जिस बकरे को कोई बीमारी ना हो, उसकी आंखें, सींघ या कान बिल्कुल ठीक हो, वह दुबला-पतला ना हो, जो बकरा स्वस्थ हो उसकी ही बलि दी जाती है। इसके अलावा अगर बकरा बहुत छोटी उम्र का हो तो भी उसकी बलि नहीं दी जा सकती। दो या चार दांत आने के बाद ही उसकी कुर्बानी दी जाती है।

Related posts