बैंक परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए खुशखबरी, अब हिंदी-अंग्रेजी के अलावा इन 13 भाषाओं में भी होगी परीक्षाएं

finance minister nirmala sitharaman

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. बैंकिंग की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। बता दें अब बैंकिंग की परीक्षा में आपके सामने भाषाओं के चयन की पहले जैसी परेशानी नहीं रहेगी। अब आपको हिंदी और अंग्रेजी के साथ क्षेत्रीय भाषाओं में भी परीक्षा देने का मौका मिल पाएगा। खबरों के मुताबिक,  बैंकिंग परीक्षाएं अब क्षेत्रीय भाषाओं में भी आयोजित की जाएंगी।

 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यह घोषणा की है कि, अब से बैंकिंग परीक्षा का आयोजन स्थानीय भाषाओं में भी होगा। बता दें कि, पिछले दिनों दक्षिण भारत के कुछ सांसदों ने लोकसभा में मांग रखी थी कि, बैंक भर्ती की परीक्षा स्थानीय भाषाओं में भी कराई जाए। इसके अलावा राज्यसभा में कांग्रेस के सांसद जी सी चंद्रशेखर ने भी बैंक की परीक्षा का मुद्दा उठाया था। उनका कहना था कि, ‘भारतीय बैंकिंग सेवा परीक्षा और अन्य भर्ती परीक्षाएं स्थानीय उम्मीदवारों की सुविधा के लिए अंग्रेजी और हिंदी के साथ-साथ स्थानीय भाषा में आयोजित होनी चाहिए।’

गुरुवार, 04 जुलाई 2019 को लोकसभा सत्र के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस मांग को स्वीकृति प्रदान कर दी है। सीतारमण ने कहा कि, ‘युवाओं को रोजगार के बराबर अवसर देने के लिए सरकार ने इस फैसले को स्वीकृति दी है।’ उन्होंने एलान किया है कि, ‘हिंदी और अंग्रेजी के अलावा अब 13 स्थानीय भाषाओं में बैंकिंग परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।’ बता दें इन 13 भाषाओं में बंगाली, गुजराती, कन्नड़, कोंकणी, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, पंजाबी, तमिल, तेलुगू, ऊर्दू और असमी शामिल हैं।

ये भी पढ़े

निर्मला सीतारमण भारत की 100 सबसे प्रभावशाली महिलाओं में शामिल: ब्रिटेन

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने की अभिनंदन से मुलाकात, कहा-पूरे देश को गर्व

 

Related posts