बरेली : पुलिस पर हमला करने वाले 43 लोग गिरफ्तार, 150 से ज्यादा लोगों के खिलाफ FIR

lockdown

चैतन्य भारत न्यूज

बरेली. उत्तर प्रदेश के बरेली में सोमवार दोपहर को भीड़ ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया था। साथ ही भीड़ ने चौकी पर आग लगाने की भी कोशिश की थी। इस मामले में अब पुलिस ने 150 से अधिक लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है और 43 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया है। इन 43 लोगों में से 39 लोगों को मंगलवार को जेल भेज दिया गया जबकि इनमें से तीन महिलाओं को जमानत पर रिहा कर दिया गया।

यह घटना शहर के इज्जतनगर थाना क्षेत्र के करमपुर चौधरी इलाके की है। गिरफ्तारी के बाद से ही लोग अपने-अपने घरों में कैद हैं। लोगों में खौफ का आलम यह है कि घर के बाहर बंधे मवेशी को चारा देने तक के लिए ग्रामीण घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं।

बरेली के एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि, ‘बंद का उल्लंघन करने ,पुलिसकर्मियों पर हमला और चौकी में आग लगाने का प्रयास करने के आरोप में सोमवार देर रात उपनिरीक्षक दुनेश कुमार ने 150 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है, जिनमें से 39 लोगों को मंगलवार को जेल भेज दिया है। तीन महिलाओं को जमानत पर रिहा कर दिया गया है।

माहौल बिगड़ने की वजह

करमपुर चौधरी इलाके में तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के होने की सूचना पाकर दोपहर को दो पुलिसकर्मी पहुंचे थे। वहां पहुंचकर पुलिसकर्मी लोगों से जानकारी ले रहे थे लेकिन लोगों ने असहयोग किया और उनके साथ हाथापाई की। फिर दोनों पुलिसकर्मी वहां से दो लोगों को हिरासत में लेकर चौकी ले आए। इसके थोड़ी देर बाद ही गांव के प्रधान तसब्बुर खान के साथ ही 300 से 400 लोग चौकी पहुंच गए और वहां आग लगाने की कोशिश की। जब घटना की सूचना आईपीएस अभिषेक वर्मा को मिली तो वह मौके पर पहुंचे। फिर लोग उनसे भी भिड़ गए और हाथापाई की। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया था। लाठी चलाने के दौरान अभिषेक वर्मा का पैर फिसल जाने के कारण वे घायल हो गए। मौके पर पुलिस ने 18 लोगों को पकड़ा था। इसके बाद इलाके व पुलिस चौकी में पुलिस बल भी तैनात किया गया।

ये भी पढ़े…

इंदौर: जिस इलाकें में लोगों ने डॉक्टरों पर की थी पत्थरबाजी, वहां से 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले

गाजियाबाद: क्वारंटाइन में महिला नर्सों के सामने अश्लील हरकतें कर रहे तबलीगी जमाती, पुलिस ने लिया हिरासत में

14 अप्रैल के बाद भी जारी रह सकता है लॉकडाउन, केंद्र सरकार गंभीरता से कर रही विचार

Related posts