बैतूलः रहवासी इलाके में घूम रहा था बाघ, 4 हाथियों की मदद से पकड़ा

चैतन्य भारत न्यूज।

बैतूल। सारणी रेंज के जंगल और रहवासी इलाकों के आसपास बीते 15 दिनों से भटक रहे बाघ को गुरुवार दोपहर में एसटीआर की टीम ने रेस्क्यू कर पकड़ लिया है। दो दिन से राख बांध के लाल चौकी के पास बाघ के मूवमेंट की सूचना थी, जिसके बाद एसटीआर, वन विभाग और वाइल्ड लाइफ कन्जरवेशन के करीब सवा सौ कर्मचारियों की टीम ने बाघ को गुरुवार सुबह से ट्रेंक्यूलाइज करने का काम शुरू किया।

 

चार हाथियों की मदद से घेरा

बाघ के मूवमेंट की सूचना मिलने के बाद चार हाथियों की मदद से उसे चारों तरफ से घेर लिया। जिससे उसे कहीं भागने का मौका नहीं मिल सका, और गुरुवार करीब 12 बजे वन विभाग की टीम के एक्सपर्ट शूटर ने टाइगर को इंजेक्ट किया। इस दौरान सुरक्षा के लिहाज से आम लोगों के साथ मीडिया को भी घटना स्थल से करीब 2 किमी दूर ही रोक दिया।

वन विहार भोपाल ले जाएंगे

वन विभाग के अफसरों ने बताया कि बाघ को रेस्क्यू कर पकड़ लिया गया है। अब उसे वन विहार भोपाल ले जाया जाएगा।

 

Related posts