आज भानु सप्तमी, सुख-समृद्धि के लिए ऐसे करें सूर्यदेव की पूजा

bhanu saptami 2020, bhanu saptami 2020 ka mahatava, bhanu saptami 2020 vrat

चैतन्य भारत न्यूज

हिंदू धर्म में भानु सप्तमी का काफी महत्व है। भानु सूर्य भगवान को कहा जाता है। सूर्य देव को ऊर्जा का प्रतीक कहा जाता है। इस बार भानु सप्तमी 15 मार्च को पड़ रही है। मान्यता है कि इस दिन अगर कोई भक्त पूरे मन से सूर्य देव की उपासना करे तो उसके सभी प्रकार के पाप कर्मों और दुखों का नाश होता है। आइए जानते हैं भानु सप्तमी का महत्व और पूजन-विधि।



bhanu saptami 2020, bhanu saptami 2020 ka mahatava, bhanu saptami 2020 vrat

भानु सप्तमी का महत्व

भगवान सूर्य नारायण की विशेष कृपा पाने के लिए भानु सप्तमी का व्रत किया जाता है। माना जाता है कि इस व्रत को रखने से दरिद्रता का नाश होने के साथ धन, वैभव, ऐश्वर्य और उत्तम स्वास्थ्य की प्राप्ति होती है। इस बार रविवार के दिन सप्तमी तिथि के संयोग से ‘भानु सूर्य सप्तमी’ पर्व का सृजन होता है। इस साल रविवार और भानु सप्तमी का एक ही दिन होना शुभ फल प्रदान करने वाला है।

bhanu saptami 2020, bhanu saptami 2020 ka mahatava, bhanu saptami 2020 vrat

भानु सप्तमी की पूजा-विधि

  • भानु सप्तमी के दिन सूर्योदय से पूर्व स्नान करके उगते हुए सूर्य का दर्शन एवं उन्हें ‘ॐ घृणि सूर्याय नम:’ कहते हुए जल अर्पित करें।
  • इस दिन सूर्य की किरणों को लाल रोली और लाल फूल मिलाकर जल दें।
  • इस दिन गंगा स्नान का भी विशेष महत्व होता है। अगर चाहे तो घर पर नहाने के पानी में गंगाजल मिलाकर स्नान कर सकते हैं।
  • स्नान के दौरान सूर्य मंत्र का कम से कम 108 बार जाप करें।

ये भी पढ़े…

भीष्माष्टमी : आज ही के दिन पितामह भीष्म ने त्यागे थे प्राण, व्रत रखने से मिलती है गुणवान संतान

मनचाही सफलता के लिए रविवार को इस विधि से करें सूर्य देवता की पूजा

दशावतार व्रत से होगी विष्णुलोक की प्राप्ति, जानिए इसका महत्व और पूजा-विधि

Related posts