8 साल की मासूम से रेप और हत्या के दोषी को कोर्ट ने दी फांसी की सजा, 32 दिन में आया फैसला

bhopal rape,girl rape and murder

चैतन्य भारत न्यूज

भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 8 साल की बच्ची का रेप और हत्या के मामले में दोषी को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है। यह फैसला घटना के 32 दिन बाद आया। बता दें आरोपी ने 8 जून को 8 साल की मासूम का मांडवा बस्ती से अपरहण कर उसके साथ कई बार दुष्कर्म करने के बाद फंसने के डर से उसकी हत्या कर दी थी।

यह घटना भोपाल के कमला नगर की है। परिजन के अनुसार, बच्ची घर से 8 जून को रात में करीब आठ बजे गुटखा खरीदने के लिए पास की ही दुकान में गई थी। जब वह वापस नहीं आई तो परिजन पुलिस के पास उसके लापता होने की शिकायत करने गए। लेकिन उस समय पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया था। इसके बाद बच्ची की खोज में लापरवाही बरतने के आरोप में छह पुलिसकर्मियों को निलंबित भी किया गया था। अगले दिन यानी 9 जून को बच्ची का शव नाले से बरामद किया गया।

हत्या का आरोपी विष्णु बामोरे बच्ची के पड़ोस में ही रहता था। बच्ची घर से कुछ सामान लेने निकली थी, तभी वह उसे बहलाकर अपने घर ले गया। पुलिस ने विष्णु के घर से बच्ची की चूड़ी और अन्य सबूत भी बरामद किए थे। इस घटना के बाद लोगों में आक्रोश फैल गया था। सभी दोषी को फांसी की सजा देने की मांग कर रहे थे। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह बच्ची की अंतिम यात्रा में शामिल हुए थे।

पुलिस ने विष्णु को खंडवा से गिरफ्तार किया था। 17 जून को उसके खिलाफ कोर्ट में 108 पेज का चालान पेश किया गया। 19 जून को कोर्ट में आरोप तय हुए। पुलिस ने इस मामले में कुल 40 लोगों को गवाह बनाया था। बुधवार को कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद आरोपी को दोषी करार दिया। कोर्ट ने विष्णु को बच्ची के साथ ज्यादती, अप्राकृतिक कृत्य और उसके बाद हत्या की धाराओं में दोषी माना और स्पेशल जज कुमुदनी पटेल ने मौत की सजा का ऐलान किया।

ये भी पढ़े… 

5 बच्चों ने किया मानसिक रूप से विकलांग युवती का गैंगरेप, वीडियो भी बनाया, लेकिन नहीं चलेगा केस!

रेप के खिलाफ सख्त हुआ अमेरिका का यह राज्य, आरोपी को लगेंगे नपुंसक बनाने वाले इंजेक्शन

VIDEO : लड़कियों को छोटे कपड़ों में देख महिला बोली- इनका तो रेप हो जाना चाहिए  

 

Related posts