1 जनवरी 2020 से हुए ये 8 बड़े बदलाव, आम आदमी की जेब और वित्तीय लेनदेन पर होगा असर

things got costly from today

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. 1 जनवरी 2020 से नए बदलावों का दौर शुरू हो गया है। लेनदेन, इंश्योरेंस, जीएसटी सहित कई क्षेत्रों में आज से बड़े बदलाव होने जा रहे हैं। इन बदलावों का असर सीधा आम आदमी की जेब पर पड़ेगा। आईए जानते हैं नए साल से होने वाले कुछ महत्वपूर्ण बदलाव के बारे में-


ATM कार्ड: 1 जनवरी से चिप वाले कार्ड ही चलेंगे

आज से SBI के सिर्फ EMV चिप वाले डेबिट कार्ड ही चलेंगे। पुराने मैग्नेटिक एटीएम-डेबिट कार्ड को बदलने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2019 थी।

SBI में निकासी, कार्ड में बदलाव

भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहकों के लिए 1 जनवरी से दो नए प्रावधान लागू होंगे। पहला तो यह कि आज से बैंक के सभी एटीएम और अन्य कैश निकासी सिस्टम के जरिए ट्रांजेक्शन के लिए वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) आएगा। SBI के इस कदम के जरिए धोखाधड़ी की आशंका कम हो जाएगी। दूसरा प्रावधान यह है कि एसबीआई ने अपने सभी ग्राहकों के मैग्नेटिक स्ट्रिप वाले कार्ड बदल दिए हैं। आज से सिर्फ EMV चिप वाले डेबिट कार्ड ही चलेंगे। पुराने मैग्नेटिक एटीएम-डेबिट कार्ड को बदलने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2019 थी। मैग्नेटिक एटीएम-डेबिट कार्ड 1 जनवरी से ब्लॉक हो जाएंगे।

NEFT ट्रांजैक्शन पर नहीं देना होंगे चार्जेस

1 जनवरी से सभी बैंकों में NEFT के जरिए लेन-देन पर शुल्क नहीं चुकाना होगा। बता दें अब से NEFT के जरिए ट्रांसेक्शन हफ्ते के सातों दिन, 24 घंटे हो सकेगा। इसका उद्देश्य डिजिटल ट्रांसेक्शन को बढ़ावा देना है।

PF से जुड़े नियम बदले

1 जनवरी से पीएफ से जुड़े कुछ नियम आसान हो गए हैं। नए नियमों के मुताबिक, अब से वो कंपनियां भी पीएफ के दायरे में होंगी, जहां 10 कर्मचारी हैं। कर्मचारी ही पीएफ का अंशदान तय कर सकेंगे। पेंशन फंड से एकमुश्त निकासी संभव होगी।

लोन: रेपो रेट से जुड़े कर्ज 0.25 फीसदी सस्ते

SBI ने रेपो रेट से जुड़े कर्ज का ब्याज 0.25 फीसदी तक घटाया है। नई दरों का फायदा पुराने ग्राहकों को भी आज से मिलेगा।

बीमा पॉलिसी: प्रीमियम महंगा होगा

बीमा नियामक IRDAI कंपनियों को आदेश दे चुका है कि लिंक्ड, नॉन लिंक्ड इंश्योरेंस पॉलिसी में बदलाव किया जाएगा। नए नियम के लागू होने के बाद प्रीमियम महंगा हो जाएगा और गारंटीड रिटर्न भी थोड़ा कम हो सकता है। एलआईसी ने क्रेडिट कार्ड से भुगतान पर लगने वाले चार्ज को भी खत्म करने की घोषणा की है।

गहनों से जुड़ा यह नियम बदलेगा

सोने-चांदी की ज्वेलरी पर अब से हॉलमार्किंग जरूरी हो गई है। हालांकि, ग्रामीण क्षेत्रों में इसे लेकर 1 साल तक छूट रहेगी। माना जा रहा है कि इस वजह से ज्वेलरी के दाम बढ़ सकते हैं।

फास्टैग : अब जरूरी, वरना दोगुना टोल

नेशनल हाईवे पर इलेक्ट्रॉनिक रूप से टोल वसूली को अनिवार्य करते हुए 15 जनवरी के बाद फास्टैग जरुरी होगा। अब तक करीब 1 करोड़ फास्टैग जारी हुए हैं। अगर बिना फास्टैग वाली इसकी लेन से गुजरती हैं तो उन्हें दोगुना टोल देना होगा।

ये भी पढ़े…

1 जनवरी राशिफल : जानिए नए साल के पहले दिन कितने बुलंद रहेंगे आपकी किस्मत के सितारें

1 जनवरी 2020 से यह खूबसूरत देश त्याग देगा अपना उपनाम, नया लोगो हुआ जारी

1 जनवरी से महंगी हो जाएंगी कार, नमकीन समेत ये जरुरी चीजें, पड़ेगा आपकी जेब पर असर!

Related posts