पटना: लॉकडाउन उल्लंघन के आरोप में पप्पू यादव गिरफ्तार, कहा- नीतीश कोरोना संक्रमित कर मुझे मरवाना चाहते हैं

चैतन्य भारत न्यूज

बिहार में कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच राजनीतिक घमासान जारी है। मंगलवार को बिहार में पूर्व सांसद और जन अधिकारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन पर कोरोना गाइडलाइन तोड़ने का आरोप लगाया गया है।

पप्पू यादव का ट्वीट

पप्पू यादव ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी, उन्होंने लिखा कि, ‘नीतीश जी, प्रणाम। धैर्य की परीक्षा न लें। अन्यथा जनता अपने हाथों में व्यवस्था लेगी तो आपका प्रशासन सारा लॉकडाउन प्रोटोकॉल भूल जाएगा। मेरा एक माह पहले ऑपेरशन हुआ है, तब भी अपना जीवन दांव पर लगा जिंदगियां बचा रहे हैं। कोरोना काल में जिंदगियां बचाने के लिए अपनी जान हथेली पर रख जूझना अपराध है, तो हां मैं अपराधी हूं। पीएम साहब, सीएम साहब दे दो फांसी, या, भेज दो जेल झुकूंगा नहीं, रुकूंगा नहीं। लोगों को बचाऊंगा। बेईमानों को बेनकाब करता रहूंगा। आप पॉजिटिव कर मारना चाहते हैं। मुझे गिरफ्तार कर गांधी मैदान थाने लाया गया है।’ बता दें कि हाल ही में पप्पू यादव ने भाजपा के सांसद राजीव प्रताप रूडी के एंबुलेंस को लेकर सवाल उठाए थे।

बीजेपी सांसद के खिलाफ खोला था मोर्चा

पप्पू यादव की गिरफ्तारी के विरोध में बिहार और देश के कई बड़े नेताओं ने अपना बयान जारी किया है और राज्य की नीतीश सरकार पर निशाना साधा है। सिर्फ नीतीश सरकार के विरोधी ही नहीं बल्कि उनके साथी भी इस मसले पर पप्पू यादव का समर्थन करते हुए नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि बीते दिनों पप्पू यादव ने बिहार में बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। राजीव प्रताप रूडी की बेकार पड़ी कुछ एम्बुलेंस को लेकर पप्पू यादव ने आवाज़ उठाई तो राजनीति गरमा गई।

Related posts