पटना में लगे नीतीश कुमार के ‘लापता’ होने के पोस्टर, जानिए क्या है मामला

patna,nitish kumar,posters of missing nitish kumar

चैतन्य भारत न्यूज

पटना. नागरिकता संशोधन बिल और नागरिकों का राष्ट्रीय रजिस्टर को लेकर पटना शहर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लापता होने के पोस्टर लग गए हैं। पटना के बीरचंद पटेल पथ स्थित राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) कार्यालय के बाहर समेत कई इलाकों में लगे इन पोस्टर में नीतीश को गूंगा, बहरा, अंधा होने के साथ-साथ लापता भी बताया गया है। हालांकि ये पोस्टर किसने लगाया है यह स्पष्ट नहीं है क्योंकि पोस्टर में किसी पार्टी, संगठन या व्यक्ति का जिक्र नहीं है।



इन पोस्टरों में लिखा गया कि- ‘गूंगा- बहरा और अंधा मुख्यमंत्री’। इस पोस्टर में नीचे नीतीश की फोटो है और फिर उसमें सबसे नीचे लिखा गया है- ‘लापता, लापता, लापता।’ एक दूसरे पोस्टर पर लिखा गया है कि ‘ध्यान से देखिए यह चेहरे को कई दिनों से ना दिखाई दिया ना सुनाई दिया, ढूंढने वाले का बिहार सदा आभारी रहेगा।’ एक अन्य पोस्टर में  नीतीश के नाम के साथ लिखा गया है ‘अदृश्य मुख्यमंत्री- जो पांच साल में सिर्फ एक दिन शपथ ग्रहण समारोह में नजर आता है।’

खबरों के मुताबिक, आरजेडी कार्यालय और पटना के अलग-अलग जगहों पर लगा पोस्टर सुबह-सुबह लोगों के बीच चर्चा का केंद्र बन गया। नीतीश के खिलाफ लगे पोस्टर पर आरजेडी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। आरजेडी विधायक एज्या यादव ने कहा कि, ‘उनकी पार्टी इस तरह की ओछी हरकत नहीं करती। ये आरजेडी को बदनाम करने की साजिश है। उन्होंने कहा कि प्रशासन को इस मामले की जांच करनी चाहिए।’

बता दें कि पिछले दिनों नीतीश की जेडीयू ने संसद के दोनों सदनों में नागरिकता संशोधन बिल (CAB )के पक्ष में वोट किया। इसको लेकर पार्टी के अंदर ही विरोध के स्वर उठने लगे। जेडीयू उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर, महासचिव पवन शर्मा और गुलाम रसूल बलियाबी ने इस बिल का विरोध किया था।

ये भी पढ़े…

नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ असम में प्रदर्शन तेज, 16 दिसंबर तक इंटरनेट और स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा में पास, पीएम मोदी ने शाह को कहा धन्यवाद

नागरिकता संशोधन बिल : देश की नागरिकता के क्या हैं नियम? सरकार ने क्या बदलाव किए, जानें इसके बारे में सबकुछ

Related posts