इन दो राज्यों में भी हुई बर्ड फ्लू की पुष्टि, हरियाणा में 1.66 लाख मुर्गियां मारने का फैसला

चैतन्य भारत न्यूज

देश में कोरोना वायरस के साथ-साथ बर्ड फ्लू का कहर भी जारी है। केरल, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान के बाद अब हरियाणा और गुजरात में भी बर्ड फ्लू पहुंच गया है। शुक्रवार को केंद्र सरकार ने हरियाणा और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि की।

हरियाणा के पंचकूला के दो नमूने पॉजिटिव मिले हैं। इसके बाद दो फार्म के एक किलोमीटर दायरे में आने वाले पांच पॉल्ट्री फार्म की 1.66 लाख मुर्गियों को मारने का फैसला हुआ है। वहीं गुजरात के जूनागढ़ में भी मृत प्रवासी पक्षी में एवियन इंफ्लूएंजा यानी बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई। दिल्ली व छत्तीसगढ़ में मृत पक्षी मिलने से संक्रमण की आशंका है। वहीं, केंद्र ने प्रभावित राज्यों में निगरानी और जांच के लिए टीम तैनात की है।

हरियाणा के पशुपालन मंत्री जेपी दलाल ने शुक्रवार को बताया कि, पंचकूला के गांव खेड़ी के सिद्धार्थ पॉल्ट्री फार्म और गांव धनौली के नेचर पॉल्ट्री फार्म की मुर्गियों में बर्ड फ्लू का संक्रमण मिला है। पंचकूला के पॉल्ट्री फार्म में 2 दिसंबर से मुर्गियां मर रही थीं, लेकिन संचालकों ने जानकारी नहीं दी।

पौंग झील में 273 और प्रवासी पक्षी मृत मिले

हिमाचल प्रदेश की पौंग झील में शुक्रवार को 273 प्रवासी पक्षी मृत मिले। यहां 28 दिसंबर से अब तक 3,702 प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू के कारण मर चुके हैं। संक्रमण की रोकथाम के लिए हैदराबाद से विशेषज्ञों की टीम पहुंची है। वहीं, विदेशी परिंदे दफनाने के लिए पशुपालन विभाग की 18 रैपिड रिस्पांस टीमें जुटी हैं।

अब तक छह राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि

बता दें अब तक छह राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। इन राज्यों को संक्रमण रोकने के लिए एक्शन प्लान के मुताबिक कदम उठाने को कहा है। सरकार ने कहा, जो राज्य एवियन इंफ्लूएंजा यानी बर्ड फ्लू से अछूते हैं उन्हें पक्षियों की असामान्य मौत पर नजर रखनी चाहिए और तत्काल रिपोर्ट करें ताकि समय रहते आवश्यक कदम उठाए जा सकें।

Related posts