बीजेपी सांसद का अजीबोगरीब दावा- संस्कृत बोलने से कंट्रोल में रहेगा डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल

bjp satna mla

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सतना से सांसद गणेश सिंह ने गुरुवार को लोकसभा में केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय विधेयक पर चर्चा के दौरान ऐसा बयान दिया जिसके बाद वह सुर्खियों में आ गए। उन्होंने दावा किया है कि संस्कृत बोलने से नर्वस सिस्टम बेहतर होता है और डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहता है।

गणेश सिंह ने संस्कृत विश्वविद्यालय पर लाए जाने वाले बिल पर बोलते हुए अमेरिकी संस्थान की एक रिसर्च के हवाले से यह बयान दिया है। उन्होंने कहा, ‘अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन नासा के एक शोध के मुताबिक अगर कंप्यूटर प्रोग्रामिंग संस्कृत में की जाती है तो इसमें कोई गड़बड़ी नहीं रहेगी।’ गणेश सिंह ने आगे कहा कि, ‘दुनिया की 97 फीसदी भाषाएं जिनमें कुछ इस्लामी भाषाएं भी शामिल हैं, संस्कृत पर आधारित हैं। इन भाषाओं की बुनियाद संस्कृत रही है।’

वहीं इसी संस्कृत विधेयक पर चर्चा के दौरान केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने अपनी बात रखते हुए कहा कि, ‘यह काफी लचीली भाषा है जिसमें किसी एक वाक्य को कई तरह से बोला जा सकता है।
कैसे अंग्रेजी में (ब्रदर) भाई और (काऊ) गाय जैसे शब्द संस्कृत से आए हैं।’ सारंगी ने कहा कि, ‘इस प्राचीन भाषा के प्रमोशन दूसरी भाषाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा।’

बता दें गुरुवार को देश में तीन मानद संस्कृत विश्वविद्यालयों को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा प्रदान करने वाले केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय विधेयक 2019 मंजूरी मिल गई है। इसके विधेयक के तहत नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान, श्री लाल बहादुर शास्त्री विद्यापीठ और तिरुपति स्थित राष्ट्रीय संस्कृत विद्यापीठ को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा प्रदान किया गया है।

ये भी पढ़े…

विश्व डायबिटीज दिवस : जानें कितनी खतरनाक बीमारी है डायबिटीज, बेहद खास है इस बार की थीम

बिना सोच-विचार किए ये चीजें खा सकते हैं डायबिटीज के मरीज, नहीं बढ़ेगी शुगर

PETA का चौंकाने वाला दावा, दूध से ज्यादा फायदेमंद है बियर पीना, गिनाए बियर के फायदे और दूध के नुकसान

 

Related posts