लाहौर में सूफी दरगाह के पास हुआ बड़ा धमाका, पुलिसकर्मियों समेत नौ की मौत

lahore blast,data darbar dargah,pakistan

चैतन्य भारत न्यूज

पाकिस्तान के लाहौर शहर में रमजान के पवित्र महीने में प्रसिद्ध धार्मिक स्थल दाता दरबार के बाहर एक बार फिर धमाका हो गया। बुधवार को हुए इस विस्फोट में पांच पुलिसकर्मियों सहित करीब नौ लोगों की मौत हो गई और अन्य कई लोग घायल हो गए हैं। इसे एक फिदायीन हमला बताया जा रहा है।

मृतकों की संख्या में हो सकता है इजाफा

हमले की पुष्टि पाकिस्तानी पंजाब पुलिस के महानिरीक्षक (सेवानिवृत्त) आरिफ नवाज खान ने की है। सूत्रों के मुताबिक, दक्षिण एशिया के सबसे बड़े सूफी धार्मिक स्थल दाता दरबार के गेट नंबर दो के निकट सुरक्षा में लगी पुलिस जीप को धमाके के लिए निशाना बनाया गया। फिलहाल पुलिस इसे आत्मघाती हमला मानकर जांच में जुटी है। लाहौर के पुलिस चीफ गजनफर अली ने कहा कि, जिस वक्त ये धमाका हुआ तब दरगाह के अंदर और बाहर काफी लोग मौजूद थे। उन्होंने कहा कि, मृतकों की संख्या अभी और इजाफा हो सकता है क्योंकि घायलों में ज्यादातर की हालत गंभीर है। पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार ने वहां के इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस को घटना की जांच के निर्देश दिए हैं।

दरगाह में पहले भी हो चुका है हमला

गौरतलब है कि, साल 2010 में भी इसी दरगाह में दो आत्मघाती हमलावरों ने खुद को उड़ा लिया था। उस हमले में करीब 40 लोगों की जान चली गई थी। इसके बाद से ही दरगाह की सुरक्षा के लिए वहां पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था। इसके बाद 2016 में भी इस दरगाह को आतंकयों ने निशाना बनाया था। इस हमले में 50 की मौत हुई थी और 102 घायल हुए थे।

Related posts