अहमदाबाद में ई-चालान के फोटो से प्रेम कहानी पहुंची अंजाम तक, घरवालों ने तय की शादी

e challan,gujarat,Ahmadabad,e challan gujarat

चैतन्य भारत न्यूज।

अहमदाबाद. सड़कों पर लगे कैमरों से ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले परेशानी में पड़ जाते हैं। वे बहाना भी नहीं बना पाते और चालान भी भरना पड़ता है लेकिन अहमदाबाद में इसी फोटो से एक जोड़े की प्रेम कहानी अंजाम तक पहुंच गई। घरवालों ने दोनों की शादी तय कर दी है।  युवक के घर पहुंचे ई-चालान व फोटो में स्कूटर पर एक युवती को बैठा देख परिजन को उनकी प्रेम कहानी का पता चला। ट्रैफिक पुलिस ने नियम तोड़ने पर वत्सल पारेख नामक युवक के घर चालान भेजा। इसके साथ सबूत के तौर पर भेजे गए फोटो में स्कूटर पर सवार वत्सल के पीछे एक युवती बैठी हुई थी। परिजन ने जब इस युवती के बारे में पूछा तो वत्सल ने बताया कि वह उसकी प्रेमिका है। दोनों एक-दूसरे से शादी करना चाहते हैं।e challan

वत्सल के माता-पिता ने युवती के घरवालों को अपने घर बुलाया। इसके बाद परिवार आपस में सहमत हुए और दोनों की शादी तय करवा दी गई। वत्सल ने पुलिस को ट्विटर के जरिए दिया धन्यवाद खास बात यह रही कि शादी तय होने के बाद वत्सल ने 100 रुपए के इस चालान के लिए अहमदाबाद पुलिस को ट्विटर के जरिए धन्यवाद दिया। वत्सल ने ट्विटर पर अहमदाबाद पुलिस को टैग करते हुए लिखा, ‘मुझे डाक के जरिए पुलिस का ये मेमो मिला। इसके साथ एक हास्यास्पद घटना भी हुई। इस मेमो के साथ भेजी गई फोटो में मैं और मेरी प्रेमिका दिख रहे थे। पहले मेरे परिवारवाले इसके बारे में नहीं जानते थे लेकिन इस मेमो के कारण वह सब कुछ जान गए हैं।‘

अहमदाबाद के पुलिस कमिश्नर ने रिट्वीट की पोस्ट

युवक के इसी ट्वीट को अहमदाबाद के पुलिस कमिश्नर (एडमिनिस्ट्रेशन) विपुल अग्रवाल ने ‘जोर का झटका धीरे से’ की टैगलाइन के साथ रिट्वीट किया। हालांकि मीडिया से बातचीत के दौरान युवक ने अपनी निजता के कारण और कोई जानकारी साझा नहीं की, लेकिन उसके कुछ दोस्तों ने यह जरूर बताया कि वह काफी लंबे वक्त से डर के कारण अपने माता-पिता को अपनी प्रेमिका के बारे में नहीं बता रहा था,लेकिन पोस्टमैन के हाथों पहुंचे पुलिस के चालान ने उसकी मुश्किल आसान कर दी।

 

Related posts